मुंबई/चंडीगढ़ः महाराष्ट्र की 288 सदस्यीय नवनिर्वाचित विधानसभा में इस बार 23 महिलाएं होंगी, जिनमें 11 मौजूदा महिला विधायक शामिल हैं. महाराष्ट्र में 2014 के मुकाबले इस बार महिला विधायकों की संख्या बढ़ी है. तब विधानसभा चुनाव में 16 महिलाएं निर्वाचित हुई थीं. हरियाणा में पिछले विधानसभा चुनाव में विजयी हुई 13 महिलाओं के मुकाबले इस बार आठ महिला उम्मीदवारों ने जीत हासिल की. Also Read - Jharkhand Assembly Election 2019 Results: आज आएंगे झारखंड विधानसभा चुनाव के नतीजे, सुबह 8 बजे से शुरू होगी मतगणना

Also Read - झारखंड चुनाव: CRPF बटालियन ने लगाया ‘जानवरों जैसे बर्ताव’ का आरोप, पीने और खाना बनाने के लिए दिया गया टैंक से पानी

महाराष्ट्र में जिन मौजूदा विधायकों ने इस बार भी जीत दर्ज की उनमें मंदा म्हात्रे (बेलापुर) मनीषा चौधरी (दहिसर), विद्या ठाकुर (गोरेगांव), देवयानी फरांदे (नासिक मध्य), सीमा हिरे (नासिक पश्चिम), माधुरी मिसाल (पार्वती), मोनिका रजाले (शिवगांव) और भारती लवहेकर (वर्सोवा) शामिल हैं. सभी आठ उम्मीदवार भाजपा के टिकट पर चुनाव जीती हैं. Also Read - Jharkhand Assembly Election 2019: दूसरे चरण के लिए 20 सीटों पर मतदान आज, 48,25,038 मतदाता करेंगे 260 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला

कांग्रेस ‍विधायक प्रणति शिंदे (मध्य सोलापुर शहर), यशोमति ठाकुर (तेवसा) और वर्षा गायकवाड़ (धारावी-मुंबई) इस बार भी जीत हासिल करने में कामयाब रहीं. एनसीपी विधायक सुमन पाटिल भी अपनी सीट बचाने में सफल रहीं. नए विधायकों में राकांपा की सरोज अहीर (देवालाली), शिवसेना की यामिनी जाधव (भायखला), श्वेता महाले (चिकली), मेघना बोरडिकर (जिंतूर), नमिता मुंदादा (काइज), मुक्ता तिलक (कस्बा पेट) और कांग्रेस की प्रतिभा धानोकर (वरोरा) और सुलभा खोडके (अमरावती) शामिल हैं.

जम्मू-कश्मीरः Article 370 हटने के बाद पहली बार हुए BDC चुनाव में 217 निर्दलीय, 81 भाजपा सदस्य निर्वाचित

दो निर्दलीय उम्मीदवारों गीता जैन (मीरा भायंदर) और मंजुला गावित (सकरी) को भी जीत मिली. हालांकि राज्य की मंत्री और भाजपा की कद्दावर महिला नेता पंकजा मुंडे को पारली सीट से हार का सामना करना पड़ा. महाराष्ट्र विधानसभा में इस बार 3,237 उम्मीदवार मैदान में उतरे, जिनमें 235 महिलाएं थीं. वहीं हरियाणा में इस बार आठ महिला उम्मीदवारों ने जीत हासिल की.

बाढ़डा सीट से जननायक जनता पार्टी (जजपा) की उम्मीदवार नैना चौटाला ने कांग्रेस उम्मीदवार रणबीर सिंह महेन्द्र को 13,000 वोटों के अंतर से हराया. जजपा नेता दुष्यंत चौटाला की मां नैना डबवाली से विधायक रह चुकी हैं. बड़खल सीट से भाजपा की सीमा त्रिखा ने कांग्रेस प्रत्याशी विजय प्रताप सिंह को 2,500 मतों के अंतर से हराकर जीत हासिल की. बीजेपी की निर्मल रानी ने कांग्रेस के कद्दावर नेता और हरियाणा विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष कुलदीप शर्मा को गनौर सीट से 10,000 से अधिक मतों से हराया. कांग्रेस उम्मीदवार और पूर्व मंत्री गीता भुक्कल ने झज्जर (सुरक्षित) सीट पर भाजपा के राकेश कुमार को 14,999 वोटों से हराया.

हरियाणा में त्रिशंकु विधानसभा, BJP को मिला तीन निर्दलीयों का साथ आज को पेश कर सकती दावा

कांग्रेस उम्मीदवार शकुंतला खटक ने कलानौर (सुरक्षित) सीट से भाजपा के राम अवतार को 10,000 से अधिक मतों से हराया. वहीं भाजपा के कमलेश ढांडा ने कलायत सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार जय प्रकाश को 8,000 मतों से हराया. कांग्रेस प्रत्याशी शैली ने नारायणगढ़ सीट से भाजपा के सुरेंद्र सिंह को 20,000 से अधिक मतों के अंतर से हराया और कांग्रेस प्रत्याशी रेनू बाला ने भाजपा के बलवंत सिंह को साढौरा सीट से 17,020 सीटों से हराया. गौरतलब है कि 2014 के विधानसभा चुनाव में हरियाणा में 13 महिला उम्मीदवारों को जीत मिली थी.