नई दिल्लीः महाराष्ट्र और हरियाणा में विधानसभा चुनाव के लिए आज सुबह से मतदान शुरू हो चुके है और मतदाता सुबह से ही पोलिंग बूथ पर पहुंच रहे हैं. मतदान करने के लिए हर मतदाता के पास अपना वोटर आईडी कार्ड होना आवश्यक है और इसके द्वारा ही वो मतदान कर सकता है. मतदाता सिर्प वोटर स्लिप के आधार पर ही मतदान के काबिल नहीं होगा.

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का दावा, महाराष्‍ट्र में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन 225 सीटें जीतेगा

अगर नियम की बात करें तो मतदान करने के लिए वोटर आईडी होना आवश्यक है लेकिन यदि किसी कारण से किसी मतदाता के पास वोटर आईडी नहीं है तो वह भी मतदान करने के लिए जा सकता है बशर्ते उसके पास कुछ जरूरी डाक्यूमेंट्स होने चाहिए. मतदाओं को यह ध्यान रखना होगा कि सिर्फ स्लिप से वोट नहीं डाल सकते.

Haryana Assembly Elections 2019: किसी भी राजनीतिक पार्टी का खेल बिगाड़ सकते हैं 22 प्रतिशत युवा

एक जानकारी के अनुसार यदि किसी के मतदाता के पास पैन कार्ड, फोटो युक्त पासबुक, मनरेगा जॉब कार्ड, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, सांसदों, विधायक को जारी किए गए आधारिका पहचान पत्र, आधार कार्ड या फिर डाकघर की पासबुक है तो वह भी पोलिंग बूथ पर अधिकारी को आईडी दिखाकर वोट डाल सकता है. वोट डालने के लिए वह मतदाता ही पात्र होंगे जिनका नाम वोटर लिस्ट में शामिल होगा.