Assembly Polls 2022: विधानसभा चुनाव वाले पांच राज्यों में कोरोना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से हटी PM मोदी की तस्वीर

Assembly Polls 2022: आचार संहिता के लागू होने के बाद यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में कोरोना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर हटा दी गई है.

Published: January 10, 2022 10:34 PM IST

By Parinay Kumar

pm modi cnci

Assembly Polls 2022: देश में जारी कोरोना संकट के बीच यूपी, पंजाब समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. चुनाव आयोग (Election Commission) की तरफ से चुनाव की तरीखों के ऐलान के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई हैं. आचार संहिता के लागू होने के बाद यूपी, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में कोरोना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट से प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर हटा दी गई है. न्यूज एजेंसी ANI ने चार राज्यों में जारी कोरोना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट ट्वीट कर बताया कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने आदर्श आचार संहिता का पालन करने के लिए उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में COVID-19 वैक्सीन प्रमाणपत्रों से पीएम मोदी की तस्वीर हटा दी है.

Also Read:

एक दिन पहले न्यूज एजेंसी PTI ने सरकारी सूत्रों के हवाले से बताया था कि जिन पांच राज्यों में चुनाव होंगे वहां के कोविड सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री की तस्वीर नहीं होगी. इसके लिए कोविन ऐप में जरूरी बदलाव किये जाएंगे. सूत्रों के हवाले ने समाचार एजेंसी पीटीआई ने बताया था कि, ‘केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय पीएम मोदी की तस्वीर को टीके के प्रमाणपत्र से हटाने के लिए कोविन प्लेटफॉर्म पर जरूरी फिल्टर लगाएगा. चुनाव आयोग ने शनिवार को घोषणा की थी कि उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, मणिपुर और गोवा में विधानसभा चुनाव 10 फरवरी से 7 मार्च के बीच सात चरणों में होंगे और मतगणना 10 मार्च को होगी.

चुनाव कार्यक्रम की घोषणा के साथ ही सरकारों, उम्मीदवारों और राजनीतिक दलों के लिए आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है. एक आधिकारिक सूत्र ने पीटीआई को बताया, ‘आदर्श आचार संहिता लागू होने के कारण इन पांच चुनावी राज्यों में लोगों को जारी किये जाने वाले कोविड-19 टीकाकरण प्रमाणपत्रों से प्रधानमंत्री की तस्वीर हटाने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय कोविन प्लेटफॉर्म पर आवश्यक फिल्टर लगाएगा.’ मार्च 2021 में, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कुछ राजनीतिक दलों की शिकायतों के बाद चुनाव आयोग के सुझाव पर असम, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी में चुनावों के दौरान भी इसी तरह के कदम उठाये थे.

(इनपुट: ANI)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें देश की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date: January 10, 2022 10:34 PM IST