नई दिल्ली. देश में अभी चुनावों का मौसम चल रहा है. पांच राज्यों में होने वाले चुनाव को सियासी जानकार जहां वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव का सेमीफाइनल कह रहे हैं, वहीं कुछ लोग इसे केंद्र में भाजपा सरकार के लिए ‘शक्ति परीक्षण’ के तौर पर देख रहे हैं. पिछले कुछ वर्षों में राजनीति, खासकर चुनावों के दौरान सोशल मीडिया पर सियासी दलों और नेताओं की उपस्थिति अनिवार्य बन गई है. नेता जमीन पर भले अति-सक्रिय माने जाते हों, लेकिन सोशल मीडिया पर भी उनका एक्टिव रहना जरूरी माना जाता है. ऐसे में जाहिर है टि्वटर, फेसबुक या वाट्सएप जैसी साइटों का सहारा लेना मजबूरी हो जाता है. चुनावों के दौरान आम लोगों की भी सोशल मीडिया पर निर्भरता बढ़ जाती है. यही वजह है कि सोशल मीडिया कंपनियां भी इसके मद्देनजर तैयारियां करती हैं. बीते दिनों माइक्रोब्लॉगिंग साइट टि्वटर ने जो आंकड़े जारी किए हैं, उससे चुनावों के दौरान सोशल मीडिया के इस्तेमाल की महत्ता को और बल मिलता दिख रहा है. जी हां, पिछले एक हफ्ते में सोशल साइट टि्वटर पर विधानसभा चुनाव टॉप ट्रेंडिंग रहा है. टि्वटर पर एक हफ्ते में #AssemblyElection से जुड़े 12 लाख से ज्यादा ट्वीट किए गए.

टि्वटर ने छत्तीसगढ़, मिजोरम, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर एक हफ्ते में इतनी तादाद में ट्वीट होने की जानकारी खुद दी है. सोशल साइट के अनुसार पिछले हफ्ते हैशटैगएसेंबलीइलेक्शन2018 (#AssemblyElection2018) से जुड़े 12 लाख ट्वीट्स किए गए हैं. बड़ी संख्या में हो रही इस एक्टिविटी को देखते हुए माइक्रोब्लॉगिंग साइट ने विधानसभा चुनावों के लिए खासतौर से कई पहलें शुरू की हैं. इनमें विशेष इमोजी, हैशइलेक्शनऑनट्विटर इवेंट्स के साथ ही प्लेटफार्म पर लाइव क्यूएंडए प्रमुख रूप से शामिल हैं.

ट्विटर ने शनिवार को एक बयान में कहा कि अभी से लेकर 23 दिसंबर तक नागरिक विशेष टि्वटर हैशएसेंबलीइलेक्शंस2018 सक्रिय कर सकते हैं. इमोजी को सक्रिय करने के लिए यूजर्स को हैशएसेंबलीइलेक्शंस2018, हैशइंडियाइलेक्शंस2018, हैशइंडियाडिसाइड समेत अन्य हैशटैग्स का प्रयोग करना होगा. टि्वटर ने कहा कि इन पहलों का लक्ष्य नागरिकों को मतदान के दिन तक सार्वजनिक चर्चा करने और सीधे राजनीतिक दलों और नेताओं से जुड़ने का मौका देना है. बता दें कि पांच राज्यों में 12 नवंबर से सात दिसंबर के बीच मतदान होंगे और सभी पांचों राज्यों के वोटों की गिनती 11 दिसंबर को होगी.