नई दिल्‍ली: साल के सबसे महत्‍वपूर्ण त्‍योहारों में एक दुर्गा पूजा अब अपने अंत की ओर है. शक्ति की अराधना का यह पर्व रावण हदन के साथ समाप्‍त होता है. रावण की प्रतिमाओं के दहन से यह संदेश दिया जाता है कि असत्‍य कितना भी बलवान क्‍यों न हो, अंतत: जीत सत्‍य की ही होती है. Also Read - पीएम मोदी ने छोड़ा तीर, बुराई के प्रतीक रावण का हुआ दहन

देश के अधिकांश हिस्‍सों में रावण दहन शुक्रवार को होगा. हालांकि, कुछेक जगहों पर गुरुवार को ही रावण दहन किया गया. गुजरात के अहमदाबाद में रावण को आज ही जलाया गया. Also Read - सिंदूर खेला, शोभायात्रा के साथ मां दुर्गा की मूर्तियों का विसर्जन, देखिए तस्वीरें

gujarat1 Also Read - बॉलीवुड स्टार्स ने #MeToo के नाम किया दशहरा, इस अंदाज में दिया ये खास संदेश

 

इसी तरह जम्‍मू के गांधीनगर इलाके में भी गुरुवार शाम को ही रावण की प्रतिमाओं को जलाया गया.

jk

जम्‍मू के गांधीनगर में रावण दहन

जम्‍मू के गांधीनगर में रावण दहन

 

हैदराबाद में रावण दहन की तैयारी

हैदराबाद में रावण दहन की तैयारी

वहीं, देश के बाकी हिस्‍सों की तरह हैदराबाद में भी शुक्रवार को रावण दहन की तैयारियां जोरों पर हैं. शहर के कलाकार रावण की प्रतिमा को अंतिम रूप देने में लगे हैं. रावण दहन के साथ ही दशहरा का त्‍योहार इस साल खत्‍म हो जाएगा.