Atal Pension Yojana: वित्त वर्ष 2020-21 में अबतक 52 लाख से अधिक नये अंशधारक अटल पेंशन योजना (एपीवाई) से जुड़े हैं. इससे दिसंबर के अंत तक सरकार की इस सामाजिक सुरक्षा योजना से जुड़े लोगों की संख्या बढ़कर 2.75 करोड़ पहुंच गई.Also Read - Sebi approval for IPOs: 10 और कंपनियों को IPO लाने के लिए मिली सेबी से मंजूरी, यहां जानें- कौन-कौन कंपनियां लाएंगी IPO

What is Atal Pension Yojana? एपीवाई सरकार की गारंटीशुदा पेंशन याजना है. इसके तहत अंशधारकों को 60 साल की आयु से तीन लाभ की पेशकश की जाती है. इस योजना के तहत अंशधारकों को पेंशन की गारंटी होती है, अंशधारक के निधन के बाद पत्नी या पति को समान पेंशन की गारंटी होती है. साथ ही नामित व्यक्ति को संचित राशि लौटाने का प्रावधान है. Also Read - Atal Pension Scheme: इस योजना में पति-पत्नी को हर महीने मिलेंगे 10,000 रुपये, जानिए - क्या है तरीका?

भारतीय पेंशन कोष नियामक एवं विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) ने एक विज्ञप्ति में कहा कि महामारी के कारण अभूतपूर्व चुनौतियों के बावूजद वित्त वर्ष 2020-21 में अबतक 52 लाख नये अंशधारकों को जोड़ना एक उल्लेखनीय उपलब्धि है. यह बैंकों के अथक प्रयासों का परिणाम है.’’ भारतीय स्टेट बैंक ने अकेले 15 लाख से अधिक नये एपीवाई अंशधारकों को जोड़ा है. Also Read - सांसदों को मिलने वाला MPLADS फंड फिर से बहाल, इस साल हर सांसद को मिलेंगे केवल 2 करोड़ रुपये

(इनपुट भाषा)