Attempt To Murder Case Against Rakesh Tikait: ट्रैक्टर रैली (Tractor Rally) में हुई हिंसा के मामले में किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज दिया गया है. दिल्ली पुलिस ने धारा 307 में राकेश टिकैत को नामजद किया है. इसके साथ ही दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने राकेश टिकैत पर कई और धाराएं लगाई हैं.Also Read - शादी के कार्ड पर किसान आंदोलन की झलक, दूल्हे ने लिखवाया- जंग अभी जारी है, MSP की बारी है

दिल्ली पुलिस ने राकेश टिकैत के खिलाफ धारा 307, दंगे की धारा 147, और धारा 353 के तहत मुकदमा दर्ज किया है. राकेश टिकैत भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता हैं. वह आंदोलन की अगुवाई करने वाले नेताओं में से एक हैं. Also Read - UP Election 2022: आरएलडी और सपा को समर्थन देगी भारतीय किसान यूनियन, नरेश टिकैत ने की घोषणा

राकेश टिकैत के साथ ही किसान नेता दर्शन पाल, राजिंदर सिंह, बलबीर सिंह राजेवल, बूटा सिंह बुर्जगिल, जोगिंदर सिंह उगराहा के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. ये सभी किसान नेता कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन की अगुवाई कर रहे हैं. Also Read - Rakesh Tikait ने क्यों कहा- खत्म नहीं हुआ है किसानों का आंदोलन? जानें 26 जनवरी का क्या है 'प्लान'

वहीं, इस मामले को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी किया है. संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि किसानों, मजदूरों के खिलाफ ये बड़ी साजिश है. संयुक्त किसान मोर्चा (Sanyukt Kisan Morcha) ने कहा कि हमारा आंदोलन शांतिपूर्वक चल रहा था. जिन लोगों ने हिंसा की है, वो हमारे साथ के लोग नहीं हैं.

इससे पहले दिल्ली पुलिस ने गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर परेड़ में हुई हिंसा मामले में 200 लोगों को हिरासत में लिया है. दिल्ली पुलिस ने कहा कि जल्‍द ही और भी लोगों की गिरफ्तारी की जाएगी.