श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर माछिल सेक्टर में सेना की एक चौकी मंगलवार को हिमस्खलन की चपेट में आ गई जिसमें तीन सैनिकों की मौत हो गई, जबकि एक सैनिक लापता हो गया. रक्षा सूत्रों ने बताया कि हिमस्खलन में पांच सैनिक फंस गए. बता दें कि बीते दिनों जनवरी के पहले हफ्ते में जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास हुए एक अन्‍य हिमस्‍खलन में सेना के एक पोर्टर की मौत हो गई थी और तीन को सुरक्षित निकाल दिया गया था.

सूत्रों ने बताया कि सेना ने बचाव अभियान चलाया और चार सैनिकों का पता लगा लिया. उनमें से तीन को मृत घोषित कर दिया, एक अन्य घायल है और उसका एक स्थानीय सैन्य अस्पताल में इलाज चल रहा है. लापता जवान का पता लगाने की कोशिशें चल रही है.

एक हफ्ते पहले हुई थी सेना के पोर्टर की मौत, तीन सुरक्षित बचाए गए  
जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में नियंत्रण रेखा के पास एक हफ्ते पहले शाम हुए हिमस्खलन में सेना के एक पोर्टर की मौत हो गई थी और तीन अन्य को सुरक्षित निकाल लिया गया था. शाहपुर सेक्टर के एक अग्रिम स्थान पर बर्फ की चट्टान गिरने से ये चारों पोर्टर उसके नीचे दब गए थे. सेना के बचाव दल ने फौरन कार्रवाई की और बर्फ से पोर्टरों को बाहर निकाल लिया था. इनमें से एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था.