नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मुद्दे की सुनवाई एक बार फिर टाल दी है. मामले की सुनवाई दो दिन बाद यानी 29 जनवरी को होनी थी, लेकिन सुनवाई टाल दी गई है. इस मामले की जनवरी में इससे पहले दो बार सुनवाई टाली जा चुकी है या तारीख आगे बढ़ाई जा चुकी है. इससे पहले 4 और 10 जनवरी को भी सुनवाई टाली गई थी. 10 जनवरी को सुनवाई की अगली तारीख 29 जनवरी दी गई थी. 29 जनवरी को सुनवाई होनी थी, लेकिन फिलहाल ऐसा नहीं होगा.

बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि: जानिए 490 साल पुराने विवाद का इतिहास

एएनआई की खबर के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट ने इसलिए सुनवाई टाली है क्योंकि सुनवाई करने वाले 5 जजों की संवैधानिक बेंच में एक जज इस दिन सुप्रीम कोर्ट में मौजूद नहीं रहेंगे. जस्टिस एसए बोबडे मौजूद नहीं रहेंगे. उनकी गैर मौजूदगी के कारण ही सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई टाली गई है. अगली सुनवाई कब होगी, ये तय नहीं है. एएनआई के अनुसार, सुनवाई तो टाली गई है लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने अगली तारीख सुनवाई के लिए नहीं बताई है.

अयोध्या राम जन्म भूमि विवाद: सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 10 जनवरी तक टली, अब नई बेंच करेगी सुनवाई


बता दें कि अनेक हिन्दु संगठन विवादित स्थल पर राम मंदिर का यथाशीघ्र निर्माण करने के लिये अध्यादेश लाने की मांग कर रहे हैं. इस बीच, शीर्ष अदालत में शुक्रवार को होने वाली सुनवाई महत्वपूर्ण हो गयी है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कुछ दिन पहले एक न्यूज एजेंसी को दिए इंटरव्यू में कहा था कि अयोध्या में राम मंदिर के मामले में न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही अध्यादेश लाने के बारे में निर्णय का सवाल उठेगा.