नई दिल्ली: अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट की तरफ से दिए गए फैसले के बाद सभी दलों के राजनेताओं की प्रतिक्रियाएं लगातार आ रही हैं. इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी एक बयान दिया है. इस मामले पर केजरीवाल ने कहा कि हम अयोध्या मामले पर उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत करते हैं. इस फैसले के आने के बाद दशकों पुराने विवाद का अंत हुआ. केजरीवाल ने लोगों से शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण माहौल बनाए रखने की भी अपील की.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले का अजमेर दरगाह ने किया स्वागत, कहा- कानून का सम्मान इस्लामी शिक्षा है

यही नहीं इस मामले पर कांग्रेस की तरफ से भी प्रतिक्रिया जाहिर की गई है. कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस मामले पर बयान देते हुए भाजपा पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आ चुका है, हम राम मंदिर के निर्माण के पक्ष में हैं. इस फैसले ने न केवल मंदिर के निर्माण के लिए दरवाजे खोले बल्कि इस मुद्दे का राजनीतिकरण करने के लिए भाजपा और अन्य लोगों के लिए दरवाजे भी बंद कर दिए.

इस मामले पर अजमेर दरगाह के शाही इमाम ने भी बयान जारी कर लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की. दरगाह के इमाम ने कहा कि आज पूरी दुनिया भारत की तरफ देख रही है. हमें दुनिया में एकता का संदेश देना होगा. साथ ही उन्होंने कहा कि कानून का सम्मान ही मूल इस्लामी शिक्षा है. इस विवाद का अंतत: अंत हुआ और हम कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हैं. साथ ही उन्होंने लोगों से शांति व सौहार्द बनाए रखने की अपील की.

वहीं इस मामले पर रदेश के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बयान देते हुए इस फैसले को एतिहासिक बताया और कहा कि इस फैसले को सभी को स्वीकार करना चाहिए साथ ही शांति का माहौल भी बनाए रखना चाहिए. सिंह ने कहा कि इस फैसले से सर्व धर्म संपन्नता की बात साबित होती है.

(इनपुट-एजेंसी)