जयपुर: राजस्थान में अजमेर शरीफ दरगाह के दीवान ने अयोध्या मामले में शनिवार को उच्चतम न्यायालय का फैसला आने के मद्देनजर देशवासियों से न्यायालय के निर्णय का सम्मान करने और शांति एवं सद्भाव बनाए रखने की अपील की है. दरगाह के दीवान जैनुअल आबदीन अली खान ने शुक्रवार को कहा, ‘‘मैं हिन्दू—मुस्लिम समुदाय के सभी लोगों और भारतीय नागरिकों से कानून व्यवस्था बनाये रखने तथा न्यायालय के निर्णय का सम्मान करने की अपील करता हूं. यह समय हमारी एकता और भाईचारा दिखाने का है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘पूरी दुनिया हमारी तरफ देख रही है और हम सभी को एकजुटता दिखानी चाहिए और इस फैसले का सम्मानपूर्वक स्वागत करना चाहिए.’’

Ayodhya Verdict Live Updates: चीफ जस्टिस रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट पहुंचे, 5 जजों की बेंच साढ़े 10 बजे सुनाएगी फैसला

इसी बीच राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले में सुनाए जाने वाले फैसले के मद्देनजर शनिवार को सुप्रीम कोर्ट के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी गई. अयोध्या में विवादित जमीन पर मालिकाना हक संबंधी मुकदमे में सुप्रीम कोर्ट की पीठ शनिवार पूर्वाह्न 10:30 बजे अपना फैसला सुनाएगी.

न्यायालय परिसर के आसपास बड़ी संख्या में सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है और सभी वाहनों और राहगीरों की भी पूरी जांच की जा रही है. प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई, जस्टिस एस. ए. बोबडे, जस्टिस धनन्जय वाई. चंद्रचूड, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एस. अब्दुल नजीर के घरों के बाहर भी दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा बढ़ा दी है. ये भी शीर्ष न्यायालय की फैसला सुनाने वाली पीठ का हिस्सा हैं.

Ayodhya Verdict: अयोध्या मसले सुप्रीम कोर्ट के ये पांच जज सुनाएंगे ऐतिहासिक फैसला