पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अयोध्या भूमि विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को स्पष्ट और एकमत से लिया गया फैसला बताते हुए शनिवार को कहा कि इस फैसले को सबको सम्मानपूर्वक स्वीकार करना चाहिए. नीतीश ने यहां पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि “सर्वोच्च न्यायालय ने अयोध्या मामले पर अपना फैसला सुना दिया है. इस फैसले का सभी को स्वागत करना चाहिए. इससे सदभावना का वातावरण बनेगा.”

उन्होंने कहा, “जो भी आज सर्वोच्च न्यायालय का फैसला है, वह स्पष्ट फैसला है, एकमत से फैसला है. अदालत ने सारी बातें कहीं हैं. उन्होंने कुछ सरकार को जिम्मेदारी दी है. इस फैसले को हर पक्ष को सुनने के बाद हम सबको, पूरे देश को, लोगों को अच्छी तरह, सम्मान के साथ स्वीकार करना चाहिए. आगे इस पर कोई विवाद नहीं होना चाहिए. यह मेरा व्यक्तिगत रूप से सभी लोगों से आग्रह है.”

उल्लेखनीय है कि प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली सर्वोच्च न्यायालय की एक संविधान पीठ ने अयोध्या भूमि विवाद पर शनिवार को अपना फैसला सुना दिया है. इस मामले पर देशभर में लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. इस मामले पर कांग्रेस और अन्य पार्टियों ने लोगों से यही अपील की है कि वे कोर्ट के फैसले का स्वागत करें, साथ ही शांति बनाए रखें. कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इस फैसले का स्वागत करते हुए भाजपा पर कटाक्ष किया. सुरजेवाला ने कहा कि इससे भाजपा की भविष्य की राजनीति खत्म हो जाएगी.

(इनपुट-एजेंसी)