बेंगलुरु. विप्रो चेयरमैन अजीम प्रेमजी ने 52,750 करोड़ रुपये के शेयर परोपरकार के लिए देने की घोषणा की है. ऐसे में परोपकार में देने वाली उनकी राशी 145,000 करोड़ तक पहुंच गई है. इसी के साथ अजीम प्रेमजी फाउंडेशन (Azim Premji Foundations) को इन शेयरों से होने वाले लाभ का फायदा मिलेगा.

बता दें कि रिपोर्ट्स के मुताबिक, अजीम प्रेमजी 18.6 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ भारत के दूसरे सबसे अमीर शख्स हैं. अजीम प्रेम जी के इस दान के बाद ये कहा जा सकता है कि अजीम प्रेमजी विप्रो (Wipro) अपने आमदनी का 67 फीसदी शेयर अबतक दान कर चुका है.

फ्रांस ने किया है सम्मानित
अजीम प्रेमजी के धर्मार्थ कार्य को देखते हुए उन्हें फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘शेवेलियर डी ला लीजन डी ऑनर’ मिल चुका है. बता दें कि प्रेमजी ने फ्रांस में आर्थिक दखल देने, वहां आईटी उद्योग विकसित करने के साथ-साथ अपने फाउंडेनश और यूनिवर्सिटी से समाज में लगातार योगदान देते रहे हैं. प्रेमजी से पहले यह पुरस्कार बंगला एक्टर सौमित्र चटर्जी और बॉलीवुड एक्टर शाहरुख खान शामिल हैं.

पाकिस्तान के वित्तमंत्री का ऑफर
बता दें कि भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद प्रेमजी के पिता हाशिम प्रेमजी उस समय चर्चा में आए थे, जब जिन्ना ने उन्हें पाकिस्तान के वित्तमंत्री का ऑफर मिला था. हालांकि, उन्होंने इसे इनकार करते हुए भारत में ही रहना पसंद किया. उस समय के लोगों ने इसकी काफी तारीफ की थी. हाशिम प्रेमजी अपने दौर में चावल और कुकिंग ऑयल के मशहूर कारोबारी हुआ करते थे.