योग गुरु बाबा रामदेव ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की जमतर तारीफ की। रामदेव ने कहा कि ममता के अंदर प्रधानमंत्री बनने के लिए उनके पास पर्याप्त गुण हैं। रामदेव ने कहा, ‘राजनीति में उनकी विश्वसनीयता को लेकर कोई सवाल नहीं होना चाहिए। अगर एक चाय वाला का बेटा प्रधानमंत्री बन सकता है तो ममता जी भी प्रधानमंत्री बन सकती हैं।’ बता दें कि रामदेव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के करीबी माने जाते हैं, ऐसे में उनका ये बयान थोड़ा चौंकाने वाला लगता है।Also Read - 2G Spectrum Case: कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा, पीएम मोदी देश से माफी मांगें

बाबा रामदेव जो कि अक्सर नेताओं पर कालाधन का आरोप लगाते रहते हैं, उन्होंने माना कि ममता बनर्जी के पास काला धन नहीं है। इंफोकॉम सेमिनार में उन्होंने कहा, ‘राजनीति में, ममता जी ईमानदारी और सादगी की प्रतीक हैं. मुझे उनकी सादगी अच्छी लगती है। वह चप्पल और साधारण साड़िया पहनती हैं। मैं मानता हूं कि उनके पास काला धन नहीं है।’ Also Read - IND vs PAK, T20 World Cup 2021: Baba Ramdev ने 'राष्ट्रधर्म के खिलाफ' बताया भारत-पाक मुकाबला, कहा- आतंक और मैच एक साथ नहीं हो सकते

ममता बनर्जी शुरू से ही प्रधानमंत्री के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ रही हैं, वहीं रामदेव इसका जमकर समर्थन करते हैं। रामदेव का कहना है कि ममता बनर्जी नोटबंदी के खिलाफ नहीं है बल्कि उसे लागू करने की प्रक्रिया के ख़िलाफ हैं। इस मौके पर रामदेव ने नोटबंदी के फैसले का क्रेडिट भी ले लिया। Also Read - एलोपैथी पर बाबा रामदेव के मूल बयान के रिकॉर्ड को देखेगा सुप्रीम कोर्ट, जानिए क्या है मामला

बाबा रामदेव ने कहा, ‘मैंने नोटबंदी का बीज बोया था। मैंने 2009 से 2014 के बीच आंदोलन जारी रखा और सरकार से पांच सौ रूपए तथा एक हजार रुपये के नोट वापस लेने को कहा था क्योंकि यह भ्रष्टाचार, कालाधन, आतंकवाद और आतंकवाद को फंडिंग का मूल कारण है।’ इस दौरान रामदेव ने ये दावा भी किया कि नोटबंदी के साथ काले धन का पैदा होना, भ्रष्टाचार तथा आतंकवाद की फंडिंग पूरी तरह रुक गई है।