कोलकाता: पश्चिम बंगाल सरकार में मंत्री और जमीयत-उलमा-ए-हिन्द के राज्य अध्यक्ष सिद्दीकुल्ला चौधरी ने बुधवार को दावा किया कि बांग्लादेश के उप उच्चायोग ने उन्हें बांग्लादेश जाने का वीजा नहीं दिया. चौधरी 26 से 31 दिसंबर तक बांग्लादेश की यात्रा पर जाने वाले थे.Also Read - दिल्‍ली में सियासी मुलाकातें: शरद पवार मिले लालू यादव से, ममता बनर्जी मिलीं अरविंंद केजरीवाल से

उन्होंने बताया, “मैंने पांच दिन की यात्रा के लिए 12-13 दिसंबर को वीजा आवेदन किया था. मुझे वहां एक कार्यक्रम को संबोधित करने के लिए आमंत्रण दिया गया था और कुछ निजी काम भी था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे अभी तक वीजा नहीं दिया गया है. उन्होंने न तो मेरा वीजा आवेदन स्वीकार किया, न ही खारिज किया है. मेरे पास सभी दस्तावेज हैं और केंद्र और राज्य सरकार से अनुमति भी है.” Also Read - ममता बनर्जी पांच दिवसीय दौरे पर दिल्ली पहुंचीं, प्रधानमंत्री व विपक्षी नेताओं से मुलाकात करेंगी

उन्होंने कहा कि वह बांग्लादेश जाने का अपना टिकट गुरुवार की सुबह रद्द कर देंगे. इस पर टिप्पणी के लिए बांग्लादेश के उप उच्चायुक्त तौफीक हसन से संपर्क नहीं हो सका. Also Read - Pegasus Controversy: ममता बनर्जी की सरकार ने पेगासस विवाद की जांच के लिए पैनल गठित किया

(इनपुट भाषा)