नई दिल्ली: सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के कर्मचारियों ने वेतन बिल लागत में बढ़ोतरी को लेकर 30 मई से दो दिन की देशव्यापी हड़ताल की चेतावनी दी है. ये कर्मचारी इंडियन बैंक्स एसोसिएशन (आईबीए) द्वारा दो प्रतिशत की मामूली वृद्धि का विरोध कर रहे हैं. यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस (यूएफबीयू) ने एक बयान में कहा है कि पांच मई को हुई बातचीत में वेतन बिल लागत में दो प्रतिशत वृद्धि सहित दो पेशकश की, जो कर्मचारियों के लिए अस्वीकार्य है.

आल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसिएशन (एआईबीईए) के महासचिव सी एच वेंकटचलम ने कहा कि इसके अलावा यह भी बताया गया है कि अधिकारियों की मांगों को लेकर वार्ता केवल स्केल थ्री तक ही सीमित रहेगी. पिछले वेतन संशोधन में आईबीए ने 15 प्रतिशत वृद्धि दी थी. यूएफबीयू नौ बैंक यूनियनों का शीर्ष संगठन है. एआईबीओसी के संयुक्त महासचिव रविंद्र गुप्ता ने मुद्रास्फीति में अनियंत्रित बढ़ोतरी के समय इस मामूली प्रस्तावित वृद्धि के तर्क पर सवाल उठाया.

(इनपुट: एजेंसी)