कोलकाता: आप 31 जनवरी और एक फरवरी को बैंक संबंधी काम पहले ही निपटा लें क्‍योंकि इन दो दिनों में बैकों की हड़ताल रहेगी. इतना ही नहीं, मार्च में तीन दिन की हड़ताल करेंगे. बैंक यूनियनों ने वेतन संबंधी मांग को लेकर बुधवार को 31 जनवरी और एक फरवरी को दो दिन की हड़ताल बुलाने का आह्वान किया है.

बैंक यूनियनों ने बुधवार को 31 जनवरी और एक फरवरी को दो दिन की हड़ताल का आह्वान किया. भारतीय बैंक संघ के साथ वेतन बढ़ोतरी पर बातचीत विफल रहने के बाद यह निर्णय किया गया है.

9 ट्रेड यूनियनों का प्रतिनिधित्व करने वाले यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियंस United Forum of Bank Unions, (UFBU) ने कहा कि बैंक कर्मचारी 11-13 मार्च को भी तीन दिन की हड़ताल करेंगे.

यूएफबीयू के राज्य संयोजक सिद्धार्थ खान ने कहा, ”एक अप्रैल से हमने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने का निर्णय किया है.”

यूएफबीयू वेतन में कम-से-कम 15 प्रतिशत वृद्धि की मांग कर रहा है, लेकिन आईबीए ने 12.25 प्रतिशत बढ़ोतरी की सीमा तय की है. खान ने कहा, यह स्वीकार्य नहीं है, वेतन संशोधन को लेकर पिछली बैठक 13 जनवरी को हुई थी.

बता दें कि देश के प्रमुख श्रमिक संगठनों इंटक, सीटू, सेवा, एआईटीयूसी, एचएमएस, एआईयूटीयूसी, टीयूसीसी, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ और यूटीयूसी ने बीती 8 जनवरी को देशव्यापी हड़ताल का आह्वान किया था. इसमें कई राज्‍यों में बैंकों की शाखाएं और एटीएम बंद रहे थे. रिजर्व बैंक के कर्मचारी भी प्रदर्शन में शामिल हुए थे.