नई दिल्ली. ‘पोलियो मुक्त’ का नारा देने के बाद एक बार फिर इसके भारत में दस्तक देने की आशंका जाहिर की गई है. बताया जा रहा है कि इसका कारण है वैक्सीन में वायरस पाया जाना. बताया जा रहा है कि गाजियाबाद स्थित मेडिकल कंपनी बायॉमेड की ओर से बनाई गई ओरल पोलियो वैक्सीन में टाइप-2 पोलियो वायरस पाए गए हैं. इसके बाद से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा है. Also Read - पाकिस्तान में पोलियो वैक्सीन पिलाने वाली दो महिलाओं की गोली मारकर हत्या

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, पोलियो वैक्सी में वायरस मिलने की सूचना के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय अलर्ट हो गया है. मंत्रालय की तरफ से इसका हल खोजने के निर्देश दिए गए हैं. रिपोर्ट में एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से कहा गया है कि ये वैक्सीन यूपी के अलावा महाराष्ट्र के भी कुछ जिलों में बच्चों को पिलाए गए हैं. Also Read - 'दो बूंद जिंदगी' के बदले मासूम बच्‍ची को मिली मौत, तीन बच्‍चे बीमार

रिपोर्ट में अधिकारी के हवाले से कहा गया है कि यूपी के कुछ बच्चों के मल में पोलियो के वायरस मिले हैं, जिसके सैंपल को जांच के लिए भेजा गया है. ये भी कहा जा रहा है कि जांच में पाया गया है कि सैंपल में टाइप-2 पोलियो वायरस हैं. बताया जा रहा है कि वैक्सीन बनाने वाली कंपनी के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है और कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है. एहतियात के तौर पर कंपनी में तैयार वैक्सीन की सप्लाई पूरी तरह बंद कर दिया गया है. Also Read - Telangana government launches special drive against polio । 6 साल बाद भारत में फिर मिला पोलियो वायरस, शुरू करेंगे स्पेशल कैम्पेन