नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) को लेकर बेंगलुरु में चल रहे एक विरोध प्रदर्शन के दौरान मंच से ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने वाली अमूल्या लियोन (Amulya Leone) नामक युवती के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा किया गया है. पुलिस ने युवती को हिरासत में ले लिया था. अब युवती को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. Also Read - केरल सरकार का बड़ा फैसला, नागरिकता कानून और सबरीमाला मामले को लेकर प्रदर्शनकारियों के खिलाफ मुकदमे वापस होंगे

हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की मौजूदगी में गुरुवार को एक कार्यक्रम में अमूल्या लियोन नाम की युवती ने पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए थे. असदुद्दीन ओवैसी इस युवती पर भड़क गए थे. युवती का माइक छीनअसदुद्दीन ओवैसी लिया गया था. असदुद्दीन ओवैसी ने बाद में भी युवती द्वारा की गई नारेबाजी को पागलपन बताया है. ओवैसी ने कहा कि ऐसे लोगों को देश से मोहब्बत नहीं है. Also Read - VIDEO: राहुल गांधी ने कहा- 'हम दो-हमारे दो' अच्छी तरह सुन लें, असम को कोई नहीं बांट पाएगा, CAA नहीं होगा

वहीं, अमूल्या लियोन का यह वीडियो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रहा है. यूजर्स इस पूरे घटनाक्रम पर कड़ी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं. लोग न सिर्फ युवती पर, बल्कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) पार्टी के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर भी निशाना साध रहे हैं.

‘पाकिस्तान जिंदाबाद नारे’ पर असदुद्दीन ओवैसी ने जाहिर की कड़ी प्रतिक्रिया, बोले- ये लोग पागल हैं, इन्हें देश से नहीं है मोहब्बत

पूर्व में सैनिक पिता के शव के सामने गोरखा वॉर क्राई ‘हो के होइ ना हो’ चिल्लाती शहीद कर्नल एम. एन राय की बेटी का वीडियो शेयर करते हुए एक दूसरे यूजर ने कहा, “अमूल्या लियोन के नारों पर इस बेटी को कैसा लगेगा. भारत की सद्भावना के लिए उदारवाद सबसे बड़ा खतरा हैं.” वहीं, एक अन्य यूजर ने कहा, “क्या किसी को यह चिंता नहीं है कि इन शब्दों के चलते राजद्रोह का मामला दर्ज किया जा सकता है. वह अपना वाक्य पूरा नहीं कर सकी. मुझे माफ करें पर क्या हमें उसका पक्ष नहीं सुनना चाहिए.”

गौरतलब है कि बेंगलुरु में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) के विरोध में प्रदर्शन के दौरान पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाली अमूल्या के खिलाफ पुलिस ने राजद्रोह का मुकदमा दर्ज कर लिया है.