बेंगलुरु: कर्नाटक के बेंगलुरु में व्यस्त विल्सन गार्डन इलाके के पास लक्कासंद्रा में एक तीन मंजिला इमारत ढह गई. सौभाग्य से, इमारत में रहने वाले 50 लोगों में से अधिकांश काम करने के लिए बाहर गए थे. किसी के कोई हताहत होने की खबर नहीं है. बचाव अभियान के लिए दमकल और आपातकालीन सेवा के कर्मी मौके पर पहुंच गए हैं. वहां रहने वाले मजदूर बिहार और उत्तर प्रदेश से आए थे और मेट्रो प्रोजेक्ट में काम कर रहे थे. जब इमारत गिरी, तब उनमें रहने वाले ज्यादातर लोग काम पर गए थे. चश्मदीदों ने बताया कि इमारत में मौजूद कुछ लोग इमारत के हिलने-डुलने पर बाहर निकलने में कामयाब रहे.Also Read - 'तुम्हारे बिना नहीं जी सकते'; पत्नी की मौत के गम में पति ने 4 बच्चों के साथ कर ली आत्महत्या

स्थानीय भाजपा विधायक उदय बी गरुड़चार ने कहा कि इमारत अनधिकृत थी और नियमों के उल्लंघन में बनाई गई थी. पुलिस ने जानकारी दी है कि इस घटना में न तो कोई घायल हुआ है और न ही कोई मारा गया है. उन्होनें कहा, मैं मौके पर जा रहा हूं. सभी मजदूर काम पर निकले थे, अगर रात में यह हादसा हुआ होता तो क्या हाल होता. Also Read - नाबालिग लड़की ने परिवार के चार लोगों को जहर देकर मार डाला, वजह जानकर हैरान रह जाएंगे आप

स्थानीय लोगों ने कहा कि इमारत दो साल से थोड़ी झुकी हुई थी लेकिन नगर निकाय के किसी अधिकारी ने इसकी परवाह नहीं की. उन्होंने भवन की स्थिति के बारे में हमारी शिकायतों की अनदेखी की. Also Read - Karnataka School Reopening Date: कर्नाटक में 25 अक्टूबर से खुलेंगे कक्षा 1 से 5वीं तक के स्कूल, इन नियमों का करना होगा पालन