मुंबई: शहर के नागरिक परिवहन उपक्रम ‘बृहनमुंबई इलेक्ट्रिसिटी सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट’ (बेस्ट) की अनिश्चितकालीन हड़ताल का बुधवार को दूसरा दिन है और परिवहन सेवाओं के अभाव में लाखों मुंबईवासी परेशान हो गए. बेस्ट के एक अधिकारी ने बताया कि शिवसेना समर्थित यूनियन हड़ताल से अलग हो गई है. इसके बावजूद बेस्ट की केवल पांच बसें ही बुधवार को सुबह से सड़कों पर चल रही हैं.

वित्तमंत्री ने संसद के बजट सत्र का किया ऐलान, 1 फरवरी को जेटली पेश करेंगे अंतरिम बजट

दिल्ली में कोहरे का असर, कुछ ट्रेनें चल रहीं 3 घंटे तक की देरी से 

‘बेस्ट’ के 32,000 से अधिक कर्मचारी, वेतनमान बढ़ाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर मंगलवार को अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए थे. राज्य सरकार ने हड़ताल कर रहे कर्मचारियों के खिलाफ तत्काल महाराष्ट्र आवश्यक सेवाएं प्रबंधन अधिनियम (एमईएसएमए) लगाया. साथ ही ‘बेस्ट’ के प्रबंधन ने उन्हें अपना आंदोलन खत्म करने और बातचीत के लिए आने को कहा.

सोलापुर में पीएम मोदी ने कहा- विधेयक पारित होना झूठ फैलाने वालों को मुंहतोड़ जवाब

बेस्ट की कामगार सेना ने मंगलवार देर शाम को कहा कि मुंबई वासियों की परेशानियां कम करने के लिए बुधवार को उनके 11,000 सदस्य काम पर आएंगे. उसने यह भी कहा था कि बुधवार को करीब 500 बसों के चलने की संभावना है.

पाक सेना ने LOC पर भारतीय अग्रिम चौकियों को निशाना बनाया, आर्मी ने दिया मुंहतोड़ जवाब