Bharat Ratna Demanded For Veer Savarkar and Syama Prasad Mukherjee: अखिल भारत हिंदू महासभा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि सरकार वीर सावरकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भारत रत्न प्रदान किया जाए. अखिल भारत हिंदू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी चक्रपाणि महाराज ने सोमवार को कहा, “वीर सावरकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी को भारत रत्न दिए जाने की घोषणा आने वाले गणतंत्र दिवस पर हो सकती है.”

इस बाबत स्वामी चक्रपाणि ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. स्वामी ने कहा, “मैं कई बार प्रधानमंत्री को इस बारे में पत्र लिख चुका हूं कि इन दोनों को भारत रत्न दिया जाना चाहिए. वे अत्यधिक बौद्धिक व्यक्ति और महान देशभक्त रहे हैं.”

स्वामी चक्रपाणि ने कहा, “2019 के आम चुनाव से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मुझसे वादा किया था कि यदि वह सत्ता में वापस आए तो सावरकर और मुखर्जी को भारत रत्न से सम्मानित किया जाएगा.” उन्होंने कहा, “इस खबर की घोषणा सरकार इस गणतंत्र दिवस के मौके पर कर सकती है.”

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, “हालांकि, जवाहरलाल नेहरू की सरकार में मुखर्जी मंत्री बने थे, फिर भी मैं कांग्रेस सरकार में इसकी उम्मीद नहीं कर सकता हूं. कांग्रेस ने दोनों देशभक्तों के नाम को बदनाम करने की कोशिश की, खास तौर पर सावरकर को. मुझे लगता है कि सिर्फ यही सरकार भारत का शीर्ष नागरिक पुरस्कार ‘भारत रत्न’ उन्हें दे सकती है.” वर्ष 1937 से 1942 तक वीर सावरकर अखिल भारत हिंदू महासभा के 15वें राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे थे. वहीं श्यामा प्रसाद मुखर्जी 1943 से 1944 तक 16वें अध्यक्ष के रूप में पद पर रहे थे.

(इनपुट-आईएएनएस)