नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल के दाम में लगातार हो रही बढ़ोतरी पर नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस की तरफ से बुलाये गए ‘भारत बंद’ के तहत सोमवार को हुए विरोध प्रदर्शन के दौरान रामलीला मैदान में राहुल गांधी ने एक बार फिर पीएम मोदी और बीजेपी पर हमला बोला. राहुल गांधी ने कहा कि जो 70 सालों में नहीं हुआ वह पीएम मोदी ने 4 साल में कर दिया. रुपया गिर रहा है. पेट्रोल-डीजल के दाम रोज बढ़ रहे हैं. राहुल ने कहा कि डीजल का दाम 80 से थोड़ा कम और पेट्रोल का दाम 80 से ज्यादा है. राहुल गांधी ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले मोदी घूम-घूम कर कहते थे कि महंगाई बढ़ रही है. तेल की कीमतें बढ़ रही हैं लेकिन अब वह इस मुद्दे पर चुप हैं जबकि जनता परेशान है.

हद पार कर चुकी है मोदी सरकार, विपक्ष एकजुट हो, सत्ता बदलने का वक्त आने वाला है: मनमोहन सिंह

राहुल गांधी ने कहा कि मोदी भाषण देते रहते हैं लेकिन करते कुछ नहीं हैं. राहुल ने कहा कि किसानों का कर्जा माफ नहीं हो रहा है लेकिन पूंजीपतियों को फायदा पहुंचाया जा रहा है. उन्होंने राफेल का जिक्र किया और कहा कि पीएम मोदी ने अपने मित्र को फायदा पहुंचाया. राफेल डील में चोरी हुई है जो जनता का पैसा है. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने बिना सोचे समझे नोटबंदी कर दी लेकिन इसके पीछे का कारण नहीं बताया. राहुल ने कहा कि नोटबंदी को लेकर कई फायदे गिनाए जा रहे थे लेकिन कोई फर्क नहीं पड़ा.

Bharat Bandh Live: रामलीला मैदान में धरने पर नेता,मनमोहन सिंह बोले-सरकार बदलने का वक्त आने वाले है

राहुल ने जीएसटी का भी जिक्र किया और कहा कि गब्बर सिंह टैक्स से लोग परेशान हैं. राहुल गांधी ने कहा कि जो दुख देश की जनता, किसानों और युवाओं के दिल में है वह यहां मौजूद नेताओं के दिल में है. उन्होंने मीडिया को लेकर कहा कि प्रेस के मित्रों को डर कर लिखना पड़ता है. उन्होंने कहा कि आपको डरने की जरूरत नहीं है. राहुल ने कहा कि हम सब विपक्षी दल अब एक साथ मिलकर बीजेपी को हराने जा रहे हैं.

विरोध मार्च से पहले राहुल गांधी ने कैलाश मानसरोवर से लाया जल बापू की समाधि पर चढ़ाया

इससे पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने नरेंद्र मोदी सरकार पर वादों को पूरा करने में विफल रहने का आरोप लगाते हुए सभी विपक्षी दलों का ‘देश की एकता, अखंडता और लोकतंत्र को बचाने के लिए एकजुट होने का आह्वान किया. रामलीला मैदान में आयोजित विरोध प्रदर्शन में सिंह ने कहा, ‘ इतनी बड़ी संख्या में विपक्षी दलों के नेताओं का शामिल होना बहुत महत्वपूर्ण कदम है. मोदी सरकार ऐसा बहुत कुछ कर चुकी है जो हद को पर कर चुका है. इस सरकार को बदलने का समय आने वाला है. आज किसान, नौजवान सहित हर तबका परेशान है.