Top Recommended Stories

महात्मा गांधी के आंदोलनों को ड्रामा बताने पर भाजपा सख्त, सांसद अनंत हेगड़े को दिया नोटिस

भाजपा ने महात्मा गांधी के खिलाफ टिप्पणी को लेकर सांसद अनंत कुमार हेगड़े को कारण बताओ नोटिस जारी किया.

Updated: February 3, 2020 8:56 PM IST

By India.com Hindi News Desk | Edited by Zeeshan Akhtar

महात्मा गांधी के आंदोलनों को ड्रामा बताने पर भाजपा सख्त, सांसद अनंत हेगड़े को दिया नोटिस

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के खिलाफ टिप्पणी को लेकर सांसद अनंत कुमार हेगड़े (Ananth Kumar Hegde) को कारण बताओ नोटिस जारी किया. कर्नाटक भाजपा प्रमुख नलिन कुमार कटील ने यहां बताया कि पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व ने गांधी के खिलाफ हेगड़े की टिप्पणियों पर कड़ा ऐतराज जताया है और उन्हें नोटिस जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा है.

अनंत कुमार हेगड़े ने विवादित टिप्पणी करते हुए गांधी के नेतृत्व में हुए स्वतंत्रता आंदोलन पर सवाल खड़ा किया था और उसे ब्रिटिश शासकों के साथ समझौता करार दिया था. हेगड़े ने शनिवार को बेंगलुरू में एक कार्यक्रम में कहा था कि जिन स्वतंत्रता सेनानियों ने देश के लिए कुछ बलिदान नहीं दिया, उन्होंने देश को विश्वास दिलाया कि भारत को आज़ादी ‘उपवास सत्याग्रह’ के ज़रिए मिली है और वे महापुरूष बन गये.

You may like to read

महात्मा गांधी के आंदोलनों को ड्रामा बताने पर BJP सांसद मुश्किल में, भाजपा ने कहा- बिना शर्त मांगें माफ़ी

महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के आंदोलन को ड्रामा बताने को लेकर बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) मुश्किल में फंस गए हैं. उन पर सबसे पहले कांग्रेस ने निशाना साधा. अब उनकी ही पार्टी बीजेपी ने भी उन्हें संदेश दिया है. बीजेपी ने अनंत हेगड़े को इस बयान के लिए माफ़ी मांगने को कहा है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी के आलाकमान ने इस बयान के लिए अनंत हेगड़े से बिना किसी शर्त के माफ़ी मांगने को कहा है.

बीजेपी सांसद अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) ने ये विवादित बयान बेंगलुरु में दिया है. हेगड़े ने कहा कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक’ था. हेगड़े ने ये भी कहा कि देश को आज़ादी सत्याग्रह से नहीं मिली. ये सच नहीं है. अंग्रेज़ों ने देश निराशा की वजह से छोड़ा था. जब मैं इतिहास पढ़ता हूं तो मेरा खून खौलता है. ऐसे लोग हमारे देश में महात्मा बन जाते हैं. खबरों के मुताबिक हेगड़े ने बेंगलुरू के एक कार्यक्रम में कहा कि आजादी की पूरी लड़ाई अंग्रेजों की सहमति एवं सहयोग से लड़ी गई थी और महात्मा गांधी के नेतृत्व वाला स्वतंत्रता आंदोलन एक ‘नाटक’ था. ये पहला मौका नहीं जब हेगड़े ने इस तरह का बयान (Controversial Statement of Ananth Hegde) दिया हो. हेगड़े ने पहले कहा था कि बीजेपी उस संविधान को बदल देगी जिसमें धर्मनिरपेक्ष शब्द लिखा हो. इसके अलावा और भी कई बयान हैं जो बेहद विवादित रहे.

BJP सांसद अनंत हेगड़े ने कहा- नाटक था महात्मा गांधी का आंदोलन, कांग्रेस बोली- अंग्रेज़ों के चमचे सर्टिफ़िकेट न दें

कांग्रेस ने दी कड़ी प्रतिक्रिया
कांग्रेस (Congress) ने महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के बारे में भाजपा नेता अनंत हेगड़े (Ananth Hegde) के इस बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है. कांग्रेस प्रवक्ता जयवीर गिल ने कहा कि ‘‘महात्मा गांधी को अंग्रेजों के चमचों और जासूसों के कैडर से प्रमाणपत्र की जरूरत नहीं है.’’ उन्होंने यह भी दावा किया कि इस समय भाजपा को ‘नाथूराम गोडसे पार्टी’ (Nathu Ram Godse) कहा जाना चाहिए. उन्होंने निशाना साधते हुए कहा कि ‘अंग्रेजों के चमचों और जासूसों’ के कार्यकर्ताओं से राष्ट्रपिता को प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं है.

Also Read:

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें India Hindi की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

By clicking “Accept All Cookies”, you agree to the storing of cookies on your device to enhance site navigation, analyze site usage, and assist in our marketing efforts Cookies Policy.