नई दिल्ली: भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने रविवार को अपनी नई पार्टी की घोषणा की. पार्टी का नाम आजाद समाज पार्टी (एएसपी) है. चंद्रशेखर ने मंच से कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, “आज ऐतिहासिक दिन है. कांशीराम जी का जन्मदिन है. बाबा साहेब को, उनके जीवन संघर्ष को हमारे सामने रखने वाले रहबर का आज जन्मदिन है. उनके लिए जो भी कहा जाए, वह कम है.” Also Read - पेशे से वकील और 'रावण' नाम से भी जाने जाते हैं भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, जानें कैसे मिली राजनीतिक पहचान

उन्होंने आगे कहा, “आज का दिन अमर रहेगा. हमारा झंडा दिल्ली की गद्दी पर लहराएगा, मैं वादा करता हूं.” चंद्रशेखर ने कार्यकर्ताओं से कहा, “मैं जश्न नहीं मना रहा हूं. मैं यहां आने से मना करने वालों से माफी मांगना चाहूंगा. दिल्ली में जो हुआ, उससे मैं खुश नहीं हूं. यह जश्न का माहौल नहीं है.” Also Read - यूपी: सुभासपा के साथ मिलकर 2022 का विधानसभा चुनाव लड़ेगी भीम आर्मी

चन्द्रशेखर आजाद ने कहा, “यह पार्टी दलित, पिछड़ों, कमजोर लोगों की आवाज बनेगी. हम सड़कों पर लड़ाई लड़ेंगे. कमजोर लोगों की आवाज उठाएंगे, क्योंकि हमारी नागरिकता पर सवाल उठाया जा रहा है. हमें गुलाम बनाने की तैयारी चल रही है.” उन्होंने कहा, “हम किसी के दलाल नहीं बनेंगे, इतनी ताकतवर पार्टी बनाएंगे कि कोई खरीद ही नहीं सकेगा. इस देश को कमजोर नहीं होने देंगे.” Also Read - लखनऊ: हिरासत में लिए गए भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, अतिथि निवास में नजरबंद

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए चन्द्रशेखर आजाद ने कहा, “यह सरकार सिर्फ पूंजीपतियों की है. नीति आयोग में अपने लोग बैठा रखे हैं, जिसकी वजह से लोगों पर अत्याचार हो रहा है, उत्पीड़न हो रहा है.” सहारनपुर मामले में जेल जाने का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, “मेरी जेब में पत्र है. जब मैं सहारनपुर वाले मामले में जेल गया था, उस वक्त 14 दिनों तक सो नहीं पाया था, फिर मैंने यह पत्र लिखा. इसमें अपने जज्बात लिखे और साथ ही लिखा कि मैं कांशीराम जी का मिशन चलाऊंगा.”

इस दौरान विभिन्न दलों को छोड़कर आए 94 लोगों ने भी आजाद समाज पार्टी में अपनी आस्था जताई.

(इनपुट आईएएनएस)