श्रीनगर: अनुच्छेद 370 पर टिप्पणी करने को लेकर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह की आलोचना के बीच पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) ने कहा कि आज अगर भारतीय संविधान के निर्माता बीआर अंबेडकर जीवित होते तो भाजपा ने उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक करार दिया होता. महबूबा ने कहा कि अनुच्छेद 370 को अंबेडकर द्वारा तैयार किये गये संविधान से मान्यता मिली थी लेकिन केंद्र ने उसे तहस-नहस कर डाला. गौरतलब है कि पूर्ववर्ती जम्मू कश्मीर राज्य को विशेष दर्जा देने वाले इस अनुच्छेद को अगस्त 2019 में केंद्र ने निष्प्रभावी बना दिया था.Also Read - महबूबा मुफ्ती ने सैयद सलाहुद्दीन के दो बेटों समेत 11 सरकारी कर्मचारियों की बर्खास्तगी को बताया अपराध

पीडीपी प्रमुख का बयान सोशल मीडिया पर एक ऑडियो चैट पर सिंह द्वारा कथित रूप से दिये गये बयान पर उनकी और कांग्रेस की हो रही आलोचना के बीच आया है. सिंह ने कथित रूप से कहा था कि सत्ता में आने पर उनकी पार्टी अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी बनाये जाने एवं जम्मू कश्मीर को पूर्ण राज्य का दर्जा दिलाने पर “पुनर्विचार” करेगी. इसपर भाजपा ने कहा कि सिंह की टिप्पणी पाकिस्तान के साथ कांग्रेस की “मिलीभगत” के व्यापक पैटर्न का हिस्सा है. Also Read - महबूबा मुफ्ती की मां गुलशन नजीर को तलब किया गया, ED ने 14 जुलाई को पेश होने को भेजा नोटिस

जम्मू कश्मीर में कुछ समय तक सत्ता में भाजपा की साझेदार रही पीडीपी की मुखिया ने अपनी पूर्व सहयोगी पार्टी पर निशाना साधते हुए ट्वीट किया, ‘‘भला हो भगवान का कि आज अंबेडकर जिंदा नहीं हैं, अन्यथा भाजपा द्वारा उन्हें भी पाकिस्तान समर्थक करार देकर बदनाम किया जाता.’’ Also Read - PDP की मीटिंग में तय, महबूबा मुफ्ती लेंगी दिल्‍ली में होने वाली ऑल पार्टी मीट पर अंत‍िम फैसला