भोपाल: मध्य प्रदेश में कांग्रेस के 20 से ज्यादा विधायकों के इस्तीफा देने के बाद प्रदेश की कमलनाथ सरकार (Kamal Nath) जहां गहरे संकट में घिरी है. वहीं मुख्य विपक्षी दल भाजपा के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को यहां पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में जमकर होली मनाई और कहा कि जल्द ही “दिवाली” आने वाली है. Also Read - मध्यप्रदेश में कोरोना से एक और व्यक्ति ने तोड़ा दम, राज्य में संक्रमितों की संख्या 154 हुई 

पार्टी दफ्तर में कार्यकर्ता बेहद उत्साह में नजर आए और इस दौरान महिलाओं सहित सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को गुलाल लगाने के साथ ही होली के गीतों पर जमकर नृत्य भी किया. इनमें से एक महिला कार्यकर्ता ने कमलनाथ की सरकार के गिरने की ओर संकेत देते हुए कहा, “हम होली से प्रफुल्लित हैं और जल्द ही दीवाली आने वाली है.” Also Read - दिग्विजय सिंह अमर्यादित भाषा वाले आ रहे कॉल्‍स से हुए परेशान, बंद किया मोबाइल फोन

कांग्रेस ने विपक्षी दल भाजपा पर आरोप लगाया है कि वह कमलनाथ की 15 महीने पुरानी सरकार को गिराने का प्रयास कर रही है. हालांकि, भाजपा ने इस आरोप को खारिज किया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा मंगलवार को कांग्रेस छोड़ देने के बाद उनके खेमे के कई विधायकों ने भी इस्तीफा दे दिया है. कांग्रेस के बागी विधायकों के इस कदम से प्रदेश में कमलनाथ की सरकार गिरने के कगार पर पहुंच गई है. Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

इस्तीफे में छलका ज्योतिरादित्य सिंधिया का दर्द, लिखा- 1 साल से थी ऐसी स्थिति, कांग्रेस में रहकर देश सेवा नहीं कर पा रहा था

मध्य प्रदेश में सियासी उफान पूरे चरम पर है. कांग्रेस के अहम नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. ज्योतिरादित्य सिंधिया किसी भी समय भारतीय जनता पार्टी (BJP) में शामिल हो सकते हैं. सिंधिया ने इस्तीफे से पहले पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) से मुलाक़ात की. सिंधिया में बीजेपी राज्यसभा भेज सकती है. उन्हें केंद्रीय मंत्री भी बनाया जा सकता है.

मध्य प्रदेश में सियासी संकट जारी है. सिंधिया ने कांग्रेस छोड़ी, इसके बाद कांग्रेस के 22 विधायकों ने विधायकी से ही इस्तीफा दे दिया है. इस्तीफा देने वाले 22 विधायकों में 6 मंत्री भी हैं. ये सभी इस समय बेंगलुरु में एक रेसॉर्ट में रुके हुए हैं. सभी ने वहीं से ही इस्तीफा दिया है. माना रहा है कि ये सभी सिंधिया के साथ कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होंगे.