नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आगाह किया कि कोरोना वायरस महामारी की तीसरी लहर आने की आशंका प्रबल है और उनकी सरकार इससे निपटने के लिए ‘‘युद्ध स्तर’’ पर तैयारियां कर रही है. उन्होंने कहा कि कोविड-19 की तीसरी लहर पर ब्रिटेन से संकेत मिल रहे हैं. 45 प्रतिशत तक टीकाकरण के बावजूद वहां मामले बढ़ रहे हैं इसलिए हम हाथ पर हाथ धरे नहीं बैठे रह सकते हैं.Also Read - यूपी के ये 11 जिले कोरोना से हुए मुक्त, एक्टिव केस जीरो, क्या आपका शहर भी है लिस्ट में, जानें

केजरीवाल एक ऑनलाइन कार्यक्रम में बोल रहे थे जिसमें उन्होंने दिल्ली के नौ अस्पतालों में 22 नए पीसीए ऑक्सीजन संयंत्रों का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया. उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली के नौ अस्पतालों में आज लगाए गए ये नए ऑक्सीजन संयंत्र कोविड-19 से लड़ने में हमारी तैयारियों को मजबूती देंगे.’’ Also Read - मिशन वैक्सीन सुरक्षा: अपने 10 लाख कर्मचारियों के बाद अब लाखों आम लोगों को टीका लगवाएगी रिलायंस इंडस्ट्रीज, अभियान शुरू

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में आगाह किया कि ‘‘कोरोना वायरस महामारी की तीसरी लहर आने की संभावना प्रबल है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम हाथ पर हाथ धरे नहीं बैठ सकते और हमारी सरकार इससे निपटने के लिए युद्ध स्तर पर तैयारियां कर रही है.’’ Also Read - Delhi Corona Update: दिल्ली में अब सिर्फ 537 एक्टिव केस, बीते 24 घंटे में 39 नए मामले और 1 की मौत

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली सरकार तीसरी लहर के मामले में कोविड-19 से निपटने के लिए ऑक्सीजन टैंकर भी खरीद रही है. उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली के लोग कोविड की दूसरी लहर से निपटने में कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहे हैं और इस लड़ाई में शामिल होने के लिए उद्योग क्षेत्र के प्रति भी हम आभारी हैं.’’

केजरीवाल ने दिल्ली के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि उन्होंने एक साथ मिलकर कोविड-19 की दूसरी लहर का सामना संघर्ष और अनुशासन से किया तथा ‘‘इसे काबू करने में सफल हुए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम प्रार्थना करते हैं कि कोविड की तीसरी लहर हमें प्रभावित न करे, लेकिन अगर ऐसा होता है तो दिल्ली को फिर से मिलकर लड़ना होगा.’’