मुजफ्फरपुर: बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना की एक नाबालिग ने एक मौलाना और एक युवक पर कई महीनों तक दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए न्याय की गुहार लगाई है. पीड़िता का आरोप है कि गांव में बैठी पंचायत ने भी अब बच्चे को बेच देने का फैसला सुना दिया है. मुजफ्फरपुर पुलिस के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि कटरा थाना क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली नाबालिग लड़की का आरोप है कि गांव की ही एक मस्जिद में रहने वाले एक मौलाना ने बेहोशी की हालत में उसके साथ दुष्कर्म किया और उसका वीडियो बना लिया. इसके बाद हत्या और वीडियो को वायरल करने की धमकी देकर करीब दो महीने तक यह सिलसिला चलता रहा.

पीड़िता ने आरोप लगाया है कि इस दौरान वह गर्भवती हो गई, जिसका पता गांव के ही एक युवक मोहम्मद शोएब को लग गया. इसके बाद उसने भी डरा धमकाकर दुष्कर्म करना प्रारंभ कर दिया. डरी सहमी पीड़िता इसके बाद अपने मामा के घर मधुबनी चली गई. इसके बाद परिवार वालों को भी इसका पता चल गया और पीड़िता ने पूरी कहानी बताई. इसी दौरान पीड़िता ने एक बच्चे को जन्म दिया. पीड़िता के बयान पर मुजफ्फरपुर महिला थाना में कुछ दिनों पहले एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई, परंतु पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की. पीड़िता अब पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रही है.

गुरुग्राम: परीक्षा देने आई 26 वर्षीय छात्रा के साथ चचेेरे भाई ने किया दुष्कर्म, शिकायत दर्ज

पीड़िता और उसके परिजनों का आरोप है कि इस दौरान गांव में इस मामले को लेकर कई बार पंचायत बैठी. पंचायत ने पीड़िता को बच्चे को बेच देने का फरमान सुनाया है. उल्लेखनीय है कि आरोपी मौलाना मकबूल सीतामढ़ी जिले के पुपरी का रहने वाला है.

मुजफ्फरपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जयंतकांत ने सोमवार को बताया कि इस मामले को लेकर पुलिस उपाधीक्षक (पूर्वी) के नेतृत्व में एक जांच टीम का गठन किया गया है. उन्होंने कहा कि आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है. पुलिस ने पंचायत की घटना से फिलहाल इंकार किया है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इस मामले की जांच कराई जा रही है, और जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कानूनी प्रावधानों के तहत कार्रवाई की जाएगी.