राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) ने आज बिहार बंद का आह्वान किया है. पार्टी ने अपने प्रमुख उपेन्द्र कुशवाहा की पुलिस पिटाई के विरोध में बंद बुलाया है. इस बंद को महागठबंधन के अन्य सहयोगी दलों ने समर्थन दिया है. हालांकि रालोसपा के इस बंद का व्यापक असर नहीं पड़ा है. राज्य के किसी भी हिस्से से किसी अप्रिय घटना की सूचना नहीं है. वैसे रालोसपा ने कहा है कि इस बंद के दौरान आवश्यक सेवाओं को अलग रखा गया है. इस बीच बंद के आह्वान को देखते हुए राज्य सरकार ने राजधानी पटना सहित अन्य इलाकों में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए हैं.

रालोसपा के इस बंद को महागठबंधन के सहयोगी दलों राजद, कांग्रेस और हम ने समर्थन देने की बात कही है. सहयोगी दलों ने अपने कार्यकर्ताओं को बैनर-पोस्टर के साथ सड़क पर उतरने की बात कही है. इस बंद को लेकर रालोसपा की ओर से जारी एक बयान में कहा गया था कि दो फरवरी को कुशवाहा पटना में शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे थे. उसी दौरान पुलिस ने उनकी पिटाई कर दी. उनके साथ पार्टी के कई कार्यकर्ता भी घायल हुए. घटना के बाद उपेन्द्र कुशवाहा को पीएमसीएच में भर्ती करवाया गया था. उपेन्द्र कुशवाहा की पिटाई के विरोध में रालोसपा ने रविवार को पटना में पुतला दहन भी किया था.