बिहार: बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के बैरिया इलाके में पति ने अपनी ही पत्नी का अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर गैंगरेप कर दिया. इसके बाद पत्नी प्रेग्नेंट भी हो गई. पुलिस ने इस मामले में अब एफआईआर दर्ज कर ली है. मुकदमा मुख्यमंत्री कार्यालय के हस्तक्षेप के बाद दर्ज किया गया है. Also Read - बिहार में कोरोना संक्रमितों की संख्या तीन हजार पार, पटना में हैं सबसे अधिक मरीज

पुलिस के मुताबिक, “संग्रामपुर इलाके की रहने वाली एक लड़की की शादी 26 दिसंबर, 2014 को बैरिया के पखनाहा बाजार निवासी तजाद्दीन खान के साथ हुई थी. शादी के कुछ ही दिनों के बाद पीड़िता को प्रताड़ित किया जाने लगा. इस कड़ी में 18 अगस्त, 2016 को पति बाहर कमाने चला गया जो फिर 29 अक्टूबर, 2016 को वापस आया. इसके बाद उसने अपनी पत्नी के सारे आभूषण बेच दिए.” Also Read - लॉकडॉउन में दिल्‍ली के एक किसान की दरियादिली, प्‍लेन से 10 प्रवासी श्रमिकों को भेज रहा बिहार

आरोप है कि इसके बाद उसने अपनी पत्नी से मांग की कि वह अपने पिता से बुलेट बाइक दिलाए. इसी बीच 16 नवम्बर, 2016 को पति अपनी पत्नी को एक दोस्त के घर पार्टी के बहाने ले गया. पीड़िता का आरोप है कि वहां पहले से ही चार लोग थे और सभी दोस्तों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया. पीड़िता का कहना है कि इस बीच महिला गर्भवती हो गई और वह अपने मायके दिल्ली चली गई, जहां उसके पिता ऑटो चलाने का काम करते हैं. Also Read - सोनू सूद ने प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए जारी किया नंबर, बिहार के सिवान में मूर्ति बनाने की तैयारी

पीड़िता का आरोप है कि पुलिस से शिकायत भी की, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई. पीड़ित महिला ने 29 दिसम्बर, 2019 को बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इस घटना की जानकारी दी. मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने 15 जनवरी को पुलिस महानिदेशक को कार्रवाई के लिए निर्देश दिया. सीएमओ से मिले आदेश के बाद पुलिस महानिदेशक के निर्देश पर दो मार्च को बैरिया थाना में मामला दर्ज कर लिया गया है.

बैरिया के थाना प्रभारी अमित कुमार ने बताया, “पीड़िता के लिखित बयान के आधार पर सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में बैरिया थाना में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है तथा आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. पुलिस पूरे मामले की छानबीन में जुट गई है.”

इनपुट एजेंसी