बिहार चुनाव के मद्देनजर मतगणना शुरू हो गयी है। रुझानों का आना शुरु हो गया है। शुरुवाती रुझानों में एनडीए को बढ़त दिखती नजर आ रही है। ऐसे में कौन बाजी मारेगा यह तो आज साफ़ हो जाएगा। हालांकि इससे पहले दोनों प्रमुख गठबंधन अपनी जीत के दावे कर चुके हैं। Also Read - Lal Krishna Advani leads revolt by party old guard, says Modi-Shah solely responsible for Bihar defeat | बिहार हार पर भाजपा दिग्गजों ने मोदी, शाह पर उठाए सवाल

Also Read - Muslim contestant number increase in Bihar Assembly | बिहार की सियासत में बढ़ी मुसलमानों की हिस्सेदारी

सुबह आठ बजे से सभी 38 जिला मुख्यालयों में 243 असेंबली सीटों के लिए वोटों की गिनती शुरू हो गई। पहला रुझान टाई रहा। एक सीट पर महागठबंधन तो दूसरे पर एनडीए आगे रहा। Live Update: बिहार में 100 से ज्यादा सीटों की रुझान सामने आई Also Read - Jitan Ram Manjhi attacks BJP and RSS over defeat | हार के बाद मांझी ने बीजेपी और RSS पर बोला हमला

अब तक के चुनावी रुझानों के मुताबिक बीजेपी गठबंधन 73 सीटों पर , जेडीयू महागठबंधन 38 सीट पर आगे चल रहा है।

पार्टी सीटें
एनडीए  73
महागठबंधन  38
अन्य  04

बिहार विधानसभा चुनाव में 272 महिलाओं सहित 3,450 उम्मीदवारों के चुनावी किस्मत का फैसला आज होना है। इस चुनाव में भाजपा नीत राजग के चेहरे के तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पेश किए जाने तथा इस दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के स्वयं चुनाव प्रबंधन की कमान संभाले के कारण यह दोनों की प्रतिष्ठा और साख का सवाल है।

बिहार विधानसभा चुनाव 2015 की खासियत यह रही कि इसमें अबतक के सर्वाधिक 56.94 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया जो कि वर्ष 2010 के विधानसभा चुनाव (52.65 प्रतिशत) तथा वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव (55.38 प्रतिशत) की तुलना में अधिक है।

गौरतलब है कि 2010 विधानसभा के सभी 243 सीटों के चुनाव परिणाम 24 नवंबर को घोषित किए गए थे। इस चुनाव में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) ने सवार्धिक 115 सीटों पर और इसकी सहयोगी भारतीय जनता पार्टी ने 91 सीटों पर विजय दर्ज की थी। इस तरह नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली जनता दल यूनाइटेड-भाजपा गठबंधन को 206 सीटों के साथ दो तिहाई बहुमत मिल गया था।जनता दल यूनाइटेड ने 141 सीटों पर और भाजपा ने 102 सीटों पर चुनाव लड़ा था।