पटना, 5 अक्टूबर –  क्रिकेटर से नेता बने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के तेजस्वी यादव का मानना है कि बिहार का चुनाव देश का और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भविष्य तय करेगा। तेजस्वी राजद प्रमुख लालू यादव के बेटे हैं। 26 साल के तेजस्वी भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ क्रिकेट खेल चुके हैं। उन्हें पक्का यकीन है कि बिहार के चुनाव में राजद, जद-यू और कांग्रेस के महागठबंधन को जीत मिलेगी। यह भी पढ़ें- बिहार चुनाव में नक्सली हिंसा बड़ी चुनौती

तेजस्वी और उनके बड़े भाई तेज प्रताप यादव विधानसभा चुनाव लड़ रहे हैं। दिल्ली के स्कूल में पढ़ाई बीच में छोड़ चुके तेजस्वी का कहना है कि बिहार के चुनाव का महत्व केवल बिहार तक सीमित नहीं रहेगा। तेजस्वी ने आईएएनएस से खास मुलाकात में कहा, “बिहार का चुनाव देश के भाग्य को तय करेगा। मोदी के भविष्य का फैसला भी चुनाव के नतीजों से तय होगा। यह भूमि अधिग्रहण और दलितों तथा पिछड़ों को आरक्षण पर सरकार की नीतियों और फैसलों को तय करेगा।”

हिंदी और अंग्रेजी भाषा पर समान अधिकार रखने वाले तेजस्वी, मोदी पर शब्दों से तीखे हमले बोलते हैं। उनका कहना है, “भाजपा का चरित्र और चेहरा दोहरा है। लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी ने 2 करोड़ युवाओं को नौकरी देने, काले धन को वापस देश लाने, हर देशवासी के खाते में काले धन से मिले 15 लाख रुपये जमा करने, कीमतों और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण के वादे किए थे।” उन्होंने कहा, “कुछ भी नहीं हुआ। शहर-गांव में किसी से भी पूछ लीजिए। लोग वही कहेंगे जो मैं कह रहा हूं।”

तेजस्वी राजद के गढ़ माने जाने वाले राघोपुर से चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, “हम निर्धनों में भी सबसे निर्धन की, पिछड़ों की लड़ाई लड़ रहे हैं, सामाजिक न्याय के लिए लड़ रहे हैं। ” तेजस्वी ने इस बात को गलत बताया कि महागठबंधन की जीत का अर्थ ‘जंगल राज’ की वापसी होगा। तेजस्वी ने कहा, “निहित स्वार्थी तत्व जंगलराज के नाम पर बिहार को बदनाम कर रहे हैं। वे ऐसा सिर्फ इसलिए कर रहे हैं कि एक गरीब का बेटा (लालू प्रसाद) राजनीति में शीर्ष पर पहुंच गया और उसने गरीबों को अधिकार देने की कोशिश की।”

उन्होंने पूछा, “और, गुजरात के बारे में क्या जहां 2002 में एक महीने में दिनदहाड़े एक हजार लोग मार दिए गए थे? जहां एक समुदाय के घरों और दुकानों को निशाना बनाया गया? क्या वह मंगल राज था?” उन्होंने कहा कि आज भी कई भाजपा शासित राज्यों में बिहार की तुलना में अधिक अपराध हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर में पीडीपी-भाजपा सरकार के सामने आए दिन पाकिस्तानी झंडे लहराए जाते हैं। उन्होंने पूछा, “क्या यह जंगल राज का अच्छा उदाहरण नहीं है?”

तेजस्वी ने कहा, “हमारे विरोधी हमें जातिवादी कहते हैं, जैसे कि जाति हमने बनाई हो। हम सभी जानते हैं कि जाति को किसने और क्यों बनाया था। लालूजी ने सिर्फ जातियों को सत्ता और विकास में उनका हक दिलाया है।” उन्होंने कहा कि भाजपा के दुष्प्रचार की वजह से बिहार बदनाम हुआ। बिहार में कानून व्यवस्था की समस्या की बात कह कर भाजपा ने निवेशकों को बिहार से दूर कर दिया। बिहार में कम उद्योग के लिए भाजपा जिम्मेदार है।