आरा: जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा नेता कन्हैया कुमार के काफिले पर बिहार में एकबार फिर पथराव किया गया. इस पथराव में हालांकि कन्हैया कुमार सुरक्षित रहे, परंतु उनके काफिले के कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए. पुलिस के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि कन्हैया बक्सर में सभा कर आरा जा रहे थे, तभी काफिले पर बीबीगंज बाजार के पास असामाजिक तत्वों ने हमला कर दिया. इस हमले में कन्हैया की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई. किसी तरह पुलिस ने कन्हैया को दूसरी गाड़ी पर बैठाकर आरा की ओर निकाला. Also Read - Covid-19: जेल से बाहर आए लालू यादव ने ऑनलाइन मीटिंग में आरजेडी वर्कर्स से की बातचीत

आरोप है कि शुक्रवार को जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार के काफिले ने कुछ बाइक सवारों को कुचल दिया था. घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने जमकर पथराव कर दिया. घटना के बाद बड़ी संख्या में पुलिस पहुंची और काफिले को आगे बढ़ाया. Also Read - Coronavirus: PM मोदी ने कोविड-19 स्थिति पर इन 4 राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात

उल्लेखनीय है कि एनआरसी और सीएए के खिलाफ कन्हैया अपनी ‘जन-गण-मन यात्रा’ पर हैं. एक महीने तक चलने वाली इस यात्रा के दौरान वह बिहार के लगभग सभी प्रमुख शहरों में पहुंचेंगे और करीब 50 सभाएं करेंगे. कन्हैया ने इस यात्रा की शुरुआत 30 जनवरी को बेतिया से की है. उनकी यह यात्रा 29 फरवरी को समाप्त होने वाली है. कन्हैया के साथ चल रहे लोगों का कहना है कि इस यात्रा के क्रम में कन्हैया के काफिले पर आठवीं बार पथराव किया गया है. इससे पहले कन्हैया के काफिले पर जमुई, सुपौल, कटिहार सहित कई इलाकों में हमला किया गया था. Also Read - Bihar: DIG पर नशे में लेडी डॉक्‍टर को बार-बार फोन करने का आरोप, CRPF ने दिया जांच का आदेश