पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेताओं ने शुक्रवार को पार्टी का स्थापना दिवस मनाया. इस मौके पर आयोजित एक कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी सहित सभी नेता मौजूद रहे, परंतु पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी आयोजन से नदारद रहे. कार्यक्रम में सभी नेताओं ने कार्यकर्ताओं से संघर्ष करने का आवाहन किया. कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राबड़ी देवी ने कहा कि आज सभी नेताओं को कार्यकर्ताओं के साथ क्षेत्र में जाने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि संघर्ष के बदौलत ही राजद लोगों के बीच फिर से पैठ बना सकता है. Also Read - बिहार में चुनाव प्रचार रथ निकालेगी भाजपा, कहा- आरजेडी का जंगलराज याद दिलाएंगे

Also Read - राहुल गांधी का PM मोदी पर हमला- पहली बार दशहरा में 'रावण' नहीं, प्रधानमंत्री का पुतला जलाया गया

लोकसभा चुनाव में हार पर सपा नेता धर्मेंद्र यादव पहुंचे हाईकोर्ट, BJP सांसद की जीत को बताया गड़बड़ी Also Read - Bihar Assembly Election 2020: पहले चरण से निकलेगा तेजस्वी के सीएम बनने का रास्ता! जानिए आखिर क्यों खुद को मजबूत मान रहा राजद

इस मौके पर राजद के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने तेजस्वी को नसीहत देते हुए कहा कि ऐसे नहीं चलेगा, सामने आना होगा, पार्टी आपके साथ है. उन्हांेने कहा, “आप खुद को शेर का बेटा कहते हैं तो मांद में बैठने से काम नहीं चलेगा. सामने आना होगा. हम सब आपके साथ हैं.”

बजट पेश होने के बाद बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, पेट्रोल 2.45 रुपए तो डीजल 2.36 रुपए महंगा

उन्होंने कहा, “लालू प्रसाद ने कभी हार नहीं मानी, हमेशा लड़ते रहे. हम लोगों के साथ ही बिहार की जनता चाहती है कि आप मुख्यमंत्री बनें.” इस मौके पर तेजप्रताप के अलावा पार्टी के उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह, जगदानंद सिंह, आलोक मेहता, शिवचंद्र राम सहित लगभग सभी नेता उपस्थित रहे.