दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने पॉन्जी स्कीम के जरिये ठगी करने वाली एक कंपनी के दो प्रमोटर्स को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने गर्वित इनोवेटिव प्रमोटर्स लिमिटिड के सीएमडी संजय भाटी और निदेशक राजेश भारद्वाज को गिरफ्तार कर लिया है. इन पर ‘बाइक बोट’ स्कीम (Bike Boat Scheme) के जरिये लोगों से 42 हजार करोड़ रुपये की ठगी का आरोप है. पुलिस ने बताया कि संजय भाटी और डायरेक्टर राजेश भारद्वाज ने देशभर के विभिन्न राज्यों के हजारों लोगों से लगभग 42, 000 करोड़ रुपये की ठगी की है. Also Read - दिल्ली दंगा: पुलिस ने इन 15 लोगों के खिलाफ दायर किया 10 हजार पेज का आरोप पत्र

दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा के ज्वाइंट सीपी ओपी मिश्रा ने बताया कि , इस कंपनी के खिलाफ कई लोगों ने शिकायत देते हुए बताया कि इस कंपनी का ऑफिस गौतम बुद्ध नगर के दादरी में है. आरोपियों ने शिकायत करने वाले लोगों को झांसा दिया था कि अगर वह एक बाइक पर 62 हजार रुपये निवेश करेंगे तो उन्हें 1 साल तक 9500 रुपये मिलेंगे. साथ ही बाइक के किराए से जो कमाई होगी वो भी मिलेगी.

लालच में आकर सैकड़ों लोगों ने निवेश कर दिया. कंपनी ने जनवरी 2019 में एक और स्कीम शुरू की, जिसके तहत इलेक्ट्रिक बाइक पर 1 लाख 24 हजार रुपये निवेश करने पर हर महीने 1 साल तक 17 हजार रुपये मिलने की बात कही गई थी. शुरुआत में कई लोगों को पैसा दिया भी गया, लेकिन बाद में आरोपी लोगों का पैसा लेकर गायब हो गए. आरोपियों के खिलाफ उत्तर प्रदेश और दूसरे राज्यों में भी केस दर्ज हैं. इस घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग की जांच प्रवर्तन निदेशालय (ED) भी कर रहा है.

(इनपुट: एजेंसी)