CDS Gen Bipin Rawat’s Chopper Crashes: तमिलनाडु में कुन्नूर के पास बुधवार को सेना का एक MI सीरीज का हेलीकॉप्टर क्रैश (Helicopter Crash) हो गया. हेलीकॉप्टर हादसे में चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) और उनकी पत्नी समेत 13 लोगों की जान चली गई. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत तमाम नेताओं ने जनरल बिपिन रावत ने निधन पर शोक जताया है. इन सबके बीच वहां मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों ने हादसे का मंजर बयां किया.Also Read - Republic Parade 2022: उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल में नजर आए PM मोदी, निकाले जा रहे हैं सियासी मायने

एक चश्मदीद कृष्णास्वामी ने बताया, ‘मैंने एक तेज आवाज सुनी. जब मैं यह देखने के लिए बाहर आया कि क्या हुआ था, तो मैंने देखा कि हेलीकॉप्टर एक पेड़ से टकरा गया था. एक बहुत बड़ा आग का गोला था और फिर यह दूसरे पेड़ से टकरा गया. मैंने दो-तीन लोगों को हेलीकॉप्टर से कूदते हुए देखा, वे पूरी तरह जल गए थे और हेलिकॉप्टर से गिरने लगे.’ Also Read - 73rd Republic Day: PM मोदी ने नेशनल मेमोरियल वॉर पहुंचकर शहीदों को किया नमन

कृष्णास्वामी ने कहा कि मैंने आसपास के लोगों को बुलाया और हमने विमान हादसे में घायल लोगों की मदद करने की कोशिश की. हमने कंबलों और पानी से आग बुझाने की कोशिश की. हम घायलों को स्ट्रैचर से सड़क तक ला रहे थे, इसके बाद दमकल विभाग और अन्य इमरजेंसी सेवाओं को सूचित किया गया.’ Also Read - Assembly Elections 2022: पांच राज्यों के चुनावों से पहले PM मोदी आज BJP कार्यकर्ताओं को देंगे जीत का मंत्र

मालूम हो कि चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (CDS Bipin Rawat) वायुसेना के एमआई-17वीएच हेलीकॉप्टर से बुधवार दोपहर करीब तीन बजे निर्धारित लेक्चर देने के लिए कुन्नूर जिले के वेलिंगटन स्थित डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज जा रहे थे, जब यह हादसा हुआ.