अगरतला: बिप्लब कुमार देब आज असम राइफल्स मैदान में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. शपथ ग्रहण के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत बीजेपी शासित राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों को भी बुलाया गया है. शपथ ग्रहण के लिए सुबह 10.30 बजे का वक्त तय किया गया है. देब ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी समेत बीजेपी शासित राज्यों को मुख्यमंत्रियों को शपथ ग्रहण में शामिल होने का न्यौता भेजा है और उन्हें उम्मीद है कि प्रधानमंत्री न्यौते को स्वीकार करेंगे और शपथ ग्रहण समारोह में आएंगे.

48 वर्षीय देब ने छह मार्च को राज्यपाल तथागत राय से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया था. इसके बाद राज्यपाल ने सरकार बनाने के लिए उन्हें आमंत्रित किया. बीजेपी और आईपीएफटी गठबंधन ने पिछले हफ्ते आए चुनाव परिणामों में जीत दर्ज की और 25 बरस के सीपीएम के शासन को उखाड़ फेंका.

कौन हैं त्रिपुरा में भाजपा की जीत के 'जादूगर' बिप्लब कुमार देब

कौन हैं त्रिपुरा में भाजपा की जीत के 'जादूगर' बिप्लब कुमार देब

इससे पहले गुरुवार को बीजेपी नेता राम माधव और मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने जा रहे बिप्लब देब ने पूर्व मुख्यमंत्री मणिक सरकार से मुलाकात की और उन्हें शपथ ग्रहण समारोह में आमंत्रित किया. मुलाकात के बाद राम माधव ने कहा कि पूर्व सीएम ने शपथ ग्रहण समारोह में आने की बात कही है. गौरतलब है कि बीजेपी ने त्रिपुरा में 35 सीटें जीतीं है जबकि आईपीएफटी के आठ सदस्य विधानसभा के लिए निर्वाचित हुए. राज्य में 60 सदस्यीय विधानसभा है.

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने छह मार्च को ऐलान किया था कि जिशनू देबबर्माराज्य के उपमुख्यमंत्री होंगे. देबबर्मा की सीट पर चुनाव स्थगित हो गया था. वह चारिलम ( अनुसूचित जनजाति) सीट से चुनाव लड़ रहे थे और इस सीट पर सीपीएम प्रत्याशी की मौत की वजह से चुनाव नहीं हुआ. इस सीट पर अब 12 मार्च को चुनाव होगा.

भाजपा के प्रवक्ता मृणाल कांती देब ने बताया कि शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, पूर्वोत्तर क्षेत्र में बीजेपी शासित तीन राज्यों के मुख्यमंत्री मौजूद रहेंगे. उन्होंने कहा कि बीजेपी शासित सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों और बीजेपी के संसदीय बोर्ड के सदस्यों को शपथ ग्रहण समारोह में शिरकत करने के लिए आमंत्रित किया गया है.