कोलकाता: पश्चिम बंगाल भाजपा ने रविवार को राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार पर पार्टी कार्यकर्ताओं को राहत सामग्री वितरित करने से रोकने का आरोप लगाया. लीपुरद्वार से भाजपा सांसद जॉन बारला ने कहा कि प्रशासन ने आज सुबह उन्हें अपने संसदीय क्षेत्र में आदिवासियों को राहत सामग्री वितरित करने से रोक दिया. Also Read - बंगाल चुनाव से पहले हेमा मालिनी का बड़ा बयान, कहा- भाजपा के सत्ता में आने पर ही लोगों का जीवन सुधरेगा

बारला ने पत्रकारों से कहा, ‘मुझे खबर मिली थी कि मेरे संसदीय क्षेत्र में कुछ लोगों को राहत सामग्री नहीं मिल रही. लिहाजा मैंने खुद ही सामग्री वितरित करने का फैसला लिया. लेकिन पुलिस और प्रशासन ने मुझे जरूरी सामान बांटने से रोक दिया. यह स्वीकार्य नहीं है.’ Also Read - सुशांत सिंह सुसाइड केस पर अब राजनीति हुई तेज़, कांग्रेस ने लिखा गृहमंत्री को पत्र, उठाई ये मांग

उन्होंने कहा कि भले ही राज्य का प्रशासन उन्हें अनुमति न दे, फिर भी पार्टी राहत कार्य करती रहेगी. भाजपा ने कहा कि ऐसी घटनाएं उत्तर 24 परगना और झारग्राम जिले में भी सामने आई हैं. झारग्राम से भाजपा सांसद कुनार हेम्ब्रम ने भी जिला प्रशासन पर ऐसे ही आरोप लगाए हैं. Also Read - कांग्रेस आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति में शामिल, सोनिया कर रहीं जनता को गुमराह: भाजपा

वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने आरोपों को निराधार बताते हुए खारिज कर दिया और कहा कि भाजपा को संकट के दौरान सस्ती राजनीति नहीं करनी चाहिए. बता दें की देश में अब तक 9,205 कोरोना के मामले सामने आए हैं और इस महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 331 हो गई है.