चेन्नई: तमिलनाडु में सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और भाजपा के बीच आगामी लोकसभा चुनावों के लिए मंगलवार को गठबंधन हुआ, जिसके तहत बीजेपी राज्य में पांच सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगा. अन्नाद्रमुक के संयोजक और उपमुख्यमंत्री ओ. पन्नीरसेल्वम तथा केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता पीयूष गोयल ने महागठबंधन की घोषणा की. गोयल तमिलनाडु के लिए भाजपा के प्रभारी हैं. दोनों दलों के बीच दूसरे और अंतिम दौर की चर्चा के बाद यह घोषणा की गई. चर्चा में मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी भी शामिल थे.Also Read - Parliament Winter Session LIVE Update: विपक्षी नेताओं ने की मुलाकात, वेंकैया नायडू की दो टूक-सांसदों को माफी मांगनी ही होगी

Also Read - कब बहाल होगा जम्मू कश्मीर का राज्य का दर्जा? भाजपा बोली- पहले चुन कर की जा रही हत्याएं बंद हों

इंटरनेशनल कोर्ट ने कुलभूषण जाधव केस की सुनवाई टालने की पाकिस्‍तान की अपील ठुकराई Also Read - Punjab Polls: पूर्व सीएम अमरिंदर सिंह ने पंजाब में नई सरकार बनाने का बताया फॉर्मूला, BJP से गठबंधन पर कही यह बात

बीजेपी के लिए ये गठबंधन दक्षिण भारत में बेहद महत्‍वपूर्ण है और लोकसभा चुनाव में उत्‍तर भारत में संभावित नुकसान की बड़ी भरपाई करने वाला साबित हो सकता है.

PM मोदी ने की जाति के आधार पर भेदभाव खत्‍म करने की अपील, जातिवाद को बढ़ावा देने वालों की हो पहचान

बीजेपी के पीयूष गोयल ने कहा, हम तमिलनाडु की 21 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव में एआईडीएमके का समर्थन करेंगे. हम राज्य में ओपीएस और ईपीएस के नेतृत्व में और केंद्र में मोदी जी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने के लिए सहमत हुए हैं.

तमिलनाडु के डिप्टी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम ने कहा, एआईएडीएमके और बीजेपी का लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन होगा, जो एक और मेगा जीतने वाला गठबंधन होगा.

पुलवामा अटैक: इमरान खान ने मांगा सबूत, कैप्टन अमरिंदर ने कहा-आतंकियों की लाशें पाकिस्तान भेज दें?

इससे पहले अन्नाद्रमुक ने पीएमके के साथ समझौता किया, जिसके तहत वेन्नियार की पार्टी को 40 में से सात सीटें दी गईं. केंद्र शासित क्षेत्र पुडुचेरी की सीट भी पीएमके के हिस्से में गई है. यह स्पष्ट नहीं है कि अन्नाद्रमुक कितने सीटों पर चुनाव लड़ेगी.