नई दिल्ली: भाजपा और कांग्रेस ने सांसद शशि थरूर के लाहौर समारोह में दिए बयान को लेकर एक दूसरे पर निशाना साधा और सत्तारूढ़ दल ने कांग्रेस नेता पर भारत की ‘‘गरिमा कम करने और बदनाम करने’’ का आरोप लगाया. भाजपा ने सवाल किया कि क्या कांग्रेस नेता राहुल गांधी पाकिस्तान में चुनाव लड़ना चाहते हैं? Also Read - आतंकी आकाओं पर लगाम लगाने में फेल इमरान, FATF की ग्रे लिस्ट में ही रहेगा पाकिस्तान

विपक्षी दल ने पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा ने तथ्यों और सच्चाई का जवाब हमेशा ‘‘जुमलेबाजी से दिया है’’. थरूर ने ‘लाहौर थिंक फेस्ट’ में ऑनलाइन की गई अपनी टिप्पणियों का लिंक पोस्ट किया था. थरूर के कार्यालय ने बताया था कि यह समारोह पिछले महीने हुआ था. Also Read - आतंकी संगठनों को मदद दे रहा है पाकिस्तान, सुरक्षित वातावरण मुहैया कराना जाना जारी: विदेश मंत्रालय

थरूर ने समारोह के दौरान कोरोना वायरस से निपटने को लेकर मोदी सरकार की आलोचना की थी और महामारी के बीच मुसलमानों के खिलाफ कथित ‘‘कट्टरता एवं पूर्वाग्रह’’ के बारे में बात की थी, जिसे लेकर भाजपा ने थरूर की आलोचना की. भाजपा प्रवक्ता सम्बित पात्रा ने संवाददाताओं से कहा कि यह ‘‘अकल्पनीय’’ है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं थरूर जैसे सांसद पाकिस्तानी मंच पर भारत के खिलाफ इस प्रकार के बयान दे सकते हैं. Also Read - Bihar Assembly Election 2020: भाजपा के मेनिफेस्टो पर मचा बवाल, तो BJP ने किया पलटवार

पात्रा ने कहा, ‘‘उन्होंने भारत की गरिमा को कम किया और देश को गलत तरीके से पेश किया.’’ थरूर ने टिप्पणी की थी कि राहुल गांधी ने फरवरी में ही कोविड-19 की गंभीरता को लेकर सचेत किया था और उन्हें इसका श्रेय दिया जाना चाहिए. इस बारे में पात्रा ने दावा किया कि केरल से सांसद पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष के निकट मित्र हैं और उन्होंने सवाल किया कि क्या गांधी पाकिस्तान में श्रेय लेना चाहते हैं और वहां चुनाव लड़ना चाहते हैं?

पात्रा ने आरोप लगाया कि वह (गांधी) चीन और पाकिस्तान में पहले से ही ‘‘नायक’’ हैं. कांग्रेस प्रवक्ता अभिषेक सिंघवी ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि सत्तारूढ़ पार्टी की इस प्रकार की प्रतिक्रिया चर्चा को ‘‘मजाक’’ बना देती है और ‘‘लोकतंत्र के रूप पर हमें कम करके दिखाती है’’. सिंघवी ने कहा, ‘‘भाजपा ने सच और तथ्यों का हमेशा ‘जुमलेबाजी’ से जवाब दिया है. भाजपा ने सच के बजाए, हमेशा बयानबाजी में भरोसा किया है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हां, ऐसा हो सकता है कि इन्हें सुनने पर आपका ध्यान आकर्षित होगा, लेकिन कुछ ही सेकंड में आपको पता चल जाता है कि भाजपा केवल बयानबाजी कर रही है.’’

सिंघवी ने कहा कि यदि कोई किसी उपलब्धि की प्रशंसा कर रहा है या किसी ऐसी गतिविधि का जिक्र कर रहा है ‘‘जिनमें आप भारत में पिछड़े हुए हैं और उस व्यक्ति को पाकिस्तान से चुनाव के लिए खड़े होने को कहना चर्चा का मजाक उड़ाना है और एक लोकतंत्र के तौर पर हमें कम करके दिखाना है’’.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ‘‘केवल यह बताने की कोशिश की जा रही है कि आप अपेक्षाकृत बहुत मजबूत, बहुत बड़े और कहीं अधिक सक्षम देश हैं तथा आपको इस मापदंड में भी पीछे नहीं होना चाहिए.’’ पात्रा ने कहा कि केंद्र सरकार ने समय से लॉकडाउन लागू किया. उन्होंने कहा कि भारत में लोगों के संक्रमणमुक्त होने की दर ऊंची है और मृत्युदर दुनिया के अन्य देशों की अपेक्षा बहुत कम है. उन्होंने कोरोना वायरस से निपटने को लेकर भाजपा सरकार की प्रशंसा की.

थरूर ने देश में पूर्वोत्तर राज्यों के भारतीयों की समस्या का भी जिक्र किया था. इसे लेकर पात्रा ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘‘पाकिस्तानी मंच पर इस प्रकार के मामलों पर चर्चा करने का क्या अर्थ है? इस दुनिया में भारत जैसा लोकतांत्रिक एवं न्यायसंगत देश नहीं है.’’ पात्रा ने गांधी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वह और भाजपा अब उन्हें ‘‘राहुल लाहौरी’’ कहेंगे.

(इनपुट भाषा)