नई दिल्ली. बीजेपी ने बेंगलुरु दक्षिण सीट 28 साल के युवा को मैदान में उतारकर नया समीकरण तैयार कर दिया है. बीजेपी ने बसावानागुड़ी से विधायक रवि सुब्रमण्य के भतीजे तेजस्वी सुर्या को उम्मीदवार बनाया है. तेजस्वी अभी तक कर्नाटक बीजेपी युवा मोर्चा में सचिव हैं.

तेजस्वी सुर्या की सीट इसलिए भी काफी महत्वपूर्ण है क्योंकि यहां से कांग्रेस ने अपने वरिष्ठ नेता बीके हरि प्रसाद को मैदान मैं उतारा है. वह राज्यसभा के उपसभापति का भी चुनाव लड़ चुके हैं. कहा जाता है कि वह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी हैं.

इस नेता के खिलाफ मैदान में
बीके हरि प्रसाद और तेजस्वी के मैदान में उतरने के बाद इस सीट पर अनुभव बनाम युवा जोश के होने की उम्मीद है. हालांकि, तेजस्वी को टिकट देने की वजह से राज्य बीजेपी में टकराव की स्थिति है. एक वर्ग का मानना है कि बीजेपी ने कई वरिष्ठ नेताओं को किनारे करते हुए तेजस्वी को टिकट दिया है.

पेशे से वकील तेजस्वी ने टिकट मिलने के बाद कहा, मुझे विश्वास नहीं हो रहा है कि पार्टी ने उन्हें टिकट दे दिया है. उन्होंने कहा कि दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के पीएम और दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने उन्हें एक बड़ी जिम्मेदारी दी है. ये सिर्फ बीजेपी में हो सकता है.