राणाघाट: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ‘महाभारत’ और भारत के इतिहास के जरिए अपनी प्रतिद्वंद्वी भाजपा पर मंगलवार को ज़ोरदार हमला बोला और देश बचाने के लिए लोगों से साथ आने की गुजारिश की. बनर्जी ने भाजपा को ‘ दुशासनों की पार्टी’ और ‘मोहम्मद बिन तुगलक का वंशज’ कहा. मुख्यमंत्री ने कहा, ”हम (टीएससी) भाजपा की तरह दुशासनों की पार्टी नहीं है. वे मोहम्मद बिन तुगलक के वंशज हैं और लोगों को उनसे देश बचाने के लिए साथ आना चाहिए.”Also Read - आजम खान बोले-मुझे एनकाउंटर की धमकी मिली है, जेल में कच्ची दाल के पानी से रोटी खाने को मिलती थी

बता दें कि ‘महाभारत’ में दुर्योधन का भाई दुशासन था, जबकि मोहम्मद बिन तुगलक 1325-1351 तक दिल्ली का सुल्तान था. उसे इतिहास में अटपटे फैसलों के लिए जाना जाता है. Also Read - प्रशांत किशोर का बड़ा बयान, कांग्रेस बीजेपी शासित इन दो राज्‍यों में चुनावी हार का सामना कर रही

भाजपा पर देश में जबरन राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या पंजी (एनपीआर) लागू करने की कोशिश का आरोप लगाते हुए तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि वह इसे ‘किसी भी तरह’ से रोकेंगी. वह बीजेपी की कटु आलोचक हैं. Also Read - सुनील जाखड़ ही नहीं इन बड़े नेताओं ने भी कांग्रेस की नय्या छोड़कर भाजपा का दामन थामा, देखें बड़े नेताओं की लिस्ट

नादिया जिले के रणाघाट में एक जनसभा में ममता बनर्जी ने कहा, एनपीआर, एनआरसी और सीएए काले जादू की तरह हैं. उन्होंने देश बचाने के लिए लोगों से साथ आने की गुजारिश की.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, उन्हें कोई भी दस्तावेज न दिखाएं, यदि वे आपसे आपका आधार कार्ड या आपके परिवार के बारे में विवरण प्रस्तुत करने के लिए कहते हैं, तो उन्हें यह तब तक न दें, जब तक कि मैं आपको सीधे नहीं बताती हूं.

मुख्यमंत्री ने कहा, ”हम (टीएससी) भाजपा की तरह दुशासनों की पार्टी नहीं है. वे मोहम्मद बिन तुगलक के वंशज हैं और लोगों को उनसे देश बचाने के लिए साथ आना चाहिए.”

देशव्यापी एनआरसी को लेकर अपना विरोध जारी रखते हुए बनर्जी ने हैरानी से पूछा कि क्या केंद्र की भाजपा सरकार उन्हें देश से बाहर फेंक देगी, क्योंकि उनके पास उनकी मां का जन्म प्रमाण पत्र नहीं है. मुख्यमंत्री ने कहा कि उनके आश्वासन के बावजूद प्रस्तावित एनआरसी की दहशत से राज्य में अब तक 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है.