नई दिल्ली: अखिल भारतीय महिला कांग्रेस की अध्यक्ष और पार्टी प्रवक्ता सु्मिता देव ने भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष नेताओं को तानाशाह बताया है. देव ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी की महिला नेता कठुआ और उन्नाव बलात्कार मामलों पर “तानाशाह के डर के कारण” मौन हैं. सुष्मिता देव ने कहा कि भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने यह टिप्पणी करके कि दोनों घटनाओं को चुनिंदा तरीके से उठाया जा रहा है, राष्ट्र को अपमानित किया है.Also Read - UP: जेडीयू ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 200 सीटों पर चुनाव लड़ने का किया ऐलान, लेकिन...

Also Read - केन्द्रीय मंत्री रामदास आठवले की पीएम मोदी से मांग- क्षत्रियों को मिले 10 प्रतिशत आरक्षण

सुष्मिता ने कहा कि अपराध करने वाला व्यक्ति इस तरह का जुर्म करने से पहले महिला से उसका धर्म नहीं पूछता है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में गुरुवार आधी रात को निकाले गए कैंडल मार्च का मकसद भारत में महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराध के मुद्दे को उठाना था और यह सिर्फ कठुआ और उन्नाव मामले तक सीमित नहीं था. Also Read - Babul Supriyo Quits Politics: BJP सांसद बाबुल सुप्रियो ने छोड़ी राजनीति, हाल ही में केंद्र के मंत्रिमंडल से हटाए गए थे

उन्होंने कहा, “यह शर्म की बात है कि भाजपा की महिला सांसद तानाशाह के डर के कारण चुप हैं.” लेखी के बयान पर सुष्मिता ने कहा, “मैं उनके बयान की निंदा करती हूं, उनका यह बयान इस राष्ट्र और इसकी महिलाओं के लिए शर्म की बात है.”

(इनपुट: पीटीआई)