कोलकाता: बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई ने रविवार को कहा कि उसने सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दायर की है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि यदि राज्य सरकार पार्टी की प्रस्तावित रथयात्रा पर कलकत्ता उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत जाती है तो पार्टी का पक्ष भी सुना जाए. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा, ”हमने यह सुनिश्चित करने के लिए उच्चतम न्यायालय में कैविएट दायर की है कि यदि बंगाल सरकार (रथयात्रा पर) कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत पहुंचती है तो भाजपा को भी सुना जाना चाहिए.”

रिटायर्ड IG की डॉक्‍टर बेटी ने 14वीं मंजिल से कूदकर की सुसाइड, एक दिन बाद होना थी IAS से शादी

उन्होंने दावा किया कि राज्य सरकार नहीं चाहती कि भाजपा की रथयात्रा निकले. घोष ने कहा, ”हमें आशंका है कि सरकार उच्चतम न्यायालय जा सकती है.” भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट में शनिवार को कैविएट दायर की.

फ्लाइट में टाइट स्कर्ट पहने महिला पायलट को देखते ही ‘बेकाबू’ हो जाते हैं पैसेंजर, करते हैं ऐसी हरकत

कलकत्ता उच्च न्यायालय की खंडपीठ ने राज्य में रथयात्रा की अनुमति मांगने वाले पत्रों का जवाब न देने पर शुक्रवार को पश्चिम बंगाल सरकार को झाड़ लगाई थी और अधिकारियों को निर्देश दिया था कि वे यात्रा के संबंध में 14 दिसंबर तक फैसला करें.

पश्‍च‍िम बंगाल के बीजेपी प्रदेश अध्‍यक्ष्‍ा दिलीप घोष ने कहा कि हमें आशंका है कि राज्‍य सरकार शीर्ष कोर्ट जा सकती है इसलिए पार्टी ने सुप्रीम कोर्ट में कैविएट दायर की है.