बेगूसराय: केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता गिरिराज सिंह ने बाढ़ और पटना में जलजमाव को लेकर बिहार सरकार को घेरा है. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा इसे प्राकृतिक आपदा बताए जाने पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पटना का जलप्रलय प्राकृतिक आपदा नहीं, व्यवस्था की अव्यवस्था है, सरकार की चूक है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि “राहत व्यवस्था कागजों में सिमटी हुई है. प्रशासन के लिए बाढ़ उत्सव के समान है. विभागीय प्रावधान की आड़ में मानवीय संवेदना के साथ मजाक किया जा रहा है.”

बिहार में अबतक 42 लोगों की मौत, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया इलाकों का निरक्षण

भाजपा के फायरब्रांड नेता माने जाने वाले सिंह ने कहा, “पटना में जलप्रलय प्राकृतिक आपदा नहीं सरकार की चूक है. व्यवस्था की अव्यवस्था है.” मंत्री ने कहा कि “तीन अगस्त को बाढ़ पूर्व तैयारी को लेकर जिला प्रशासन ने पुख्ता व्यवस्था का दावा किया था. लेकिन, बाढ़ आने पर सारी तैयारियों की पोल खुल गई.”

बेगूसराय के सांसद ने सरकार द्वारा चलाई जा रही सामुदायिक रसोई पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि बाढ़पीड़ितों के भोजन के लिए सामुदायिक रसोई संचालन की बात कही जा रही है, लेकिन, सवाल उठता है कि पानी से घिरा परिवार उस सामुदायिक रसोई तक कैसे पहुंच सकता है. उल्लेखनीय है कि बिहार में भाजपा और जद (यू) की सरकार चल रही है. मुख्यमंत्री ने दो दिन पहले पटना में लगातार हो रही बारिश के बाद जलजमाव को प्राकृतिक आपदा बताया था.