नई दिल्‍ली: हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजों के मुताबिक किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है. इसकेेबाद त्र‍ि शंकु विधानसभा के चलते राजनीतिक गतिविधियां तेज हो गई है. हरियाणा में बहुमत से दूर रही बीजेपी सबसे अधिक विधायकों वाली पार्टी होने के चलते राज्‍य में सरकार बनाने की कवायद में तेजी से जुटी हुई है. सूत्रों की माने तो भाजपा शुक्रवार को राज्यपाल के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है. वहीं, हरियाणा से मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर शुक्रवार सुबह दिल्‍ली के रवाना हुए. वे आज यहां पार्टी के शीर्ष नेतृत्‍व के नेताओं से मीटिंग करेंगे.

नई विधानसभा में सात निर्दलीय जीत कर आए है और राज्य में अगली सरकार गठित करने में उनकी अहम भूमिका होने की उम्मीद है. दिल्‍ली में गुरुवार को देर रात तक बीजेपी पार्टी अध्‍यक्ष अमित शाह, कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा, हरियाणा प्रदेश के प्रभारी अनिल जैन, बीएल संतोष के बीच मीटिंग चलती रही. बीजेपी को बहुमत पाने के लिए 6 विधायकों के समर्थन की जरूरत है, जिसमें से दो विधायकों का खुला समर्थन अब तक सामने आ चुका है.  तीसरे निर्दलीय विधायक सोमवीर सिंह ने कहा कि वह भाजपा का समर्थन करेंगे.

ये मीटिंग शाह के निवास पर हुई. इस बीच रात में ही हरियाणा के दो विधायकों के दिल्‍ली में बीजेपी के इन शीर्ष नेताओं से मिलने की बात भी सामने आई है. माना जा रहा कि विधायकों की जरूरी संख्‍या का जुगाड़ करने के भी करीब है बीजेपी. इन दो विधायकों ने खुलकर बीजेपी को समर्थन देने की बात कही है. वहीं, हरियाणा बीजेपी के प्रभारी अनिल जैन ने कहा कि हरियाणा के लोगों के आशीर्वाद से, हम फिर से राज्य में सरकार बनाएंगे. हम अकेली सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरे हैं.

हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला ने कहा कि लोगों ने भाजपा को जनादेश दिया है. हालांकि, हम इस बात पर विचार करेंगे कि इस बार पार्टी को 7 सीटें कम क्यों मिलीं. पार्टी और मैं दोनों इन चुनावों के परिणामों से सीखेंगे. हम राज्य में पार्टी को मजबूत करने के लिए कदम उठाएंगे. बीजेपी अध्यक्ष बराला ने कहा, निर्दलीय उम्मीदवार भाजपा के साथ आए हैं. एमएल खट्टर जी के नेतृत्व में सरकार बनेगी. वह आज दिल्ली में चर्चा करने के लिए आ रहे हैं.

रनिया विधानसभा क्षेत्र से 19431 वोटों से जीतने वाले निर्दलीय विधायक रंजीत सिंह ने जहां बीजेपी को समर्थन देने की बात कही है, वहीं सिरसा सीट से जीते हरियाणा लोक हित पार्टी के एकमात्र विधायक गोपाल कांडा ने गुरुवार रात को बीजेपी के कार्यकारी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा से उनके निवास पर मुलाकात करके अपना समर्थन व्‍यक्‍त किया है.

बता दें कि हरियाणा विधानसभा की 90 सीटों के चुनाव परिणाम आने के बाद बीजेपी 40 सीटों पर विजयी हुई है. हरियाणा लोकहित पार्टी को एक सीट, निर्दलीय 7, कांग्रेस को 31, इंडियन लोकदल को 1 और जननायक जनता पार्टी को 10 सीटों पर जीत मिली है.  जबक‍ि पिछली विधानसभा में भाजपा 47 , कांग्रेस 17, इनेलो 19, शिरोमणि अकाली दल और बीएसपी एक-एक और निर्दलीयों ने पांच सीटों पर दर्ज की थी.

लोकसभा में राज्य की दस सीटों पर जीत दर्ज करने वाली भाजपा के लिए नतीजे निराश करने वाले रहे. चुनाव में 75 सीटों पर जीत का लक्ष्य लेकर चल रही भाजपा 40 सीटों पर सिमट गई और राज्य सरकार के 10 मंत्रियों में से 8 को हार का सामना करना पड़ा.