भुवनेश्वर: ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने रविवार को बीजू जनता दल (बीजद) के कार्यकर्ताओं से कहा कि वे लोगों को इस बारे में जागरूक करें कि भारतीय जनता पार्टी शासित छत्तीसगढ़ और बीजेपी नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार ने ओडिशा आने वाले महानदी के पानी के प्रवाह को बाधित कर दिया है. महानदी जल विवाद पर आयोजित पार्टी की एक संगोष्ठी में बीजद अध्यक्ष नवीन ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं का यह कर्तव्य है कि वे लोगों के पास जाएं और उन्हें समझाएं.Also Read - उद्धव ठाकरे बोले- शिवसेना ने BJP के साथ रहकर 25 साल बर्बाद कर दिए, ये मैं अब भी मानता हूं

Also Read - विधानसभा चुनाव से पहले CM बिरेन सिंह ने कहा- मैं और मणिपुर के लोग चाहते हैं कि अफ्सफा हट जाए

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जल विवाद को हल करने के लिए एक न्यायाधिकरण बनाने के सर्वोच्च अदालत के आदेश के बावजूद ओडिशा सरकार के साथ सहयोग नहीं किया . पटनायक ने कहा कि महानदी के निचले इलाके में पानी सूख गया है. क्योंकि छत्तीसगढ़ ने एक तरफ से बांधों का निर्माण कर पानी के प्रवाह को रोक दिया है. Also Read - UP Polls 2022: BSP प्रमुख मायावती का हमला- 'आदित्यनाथ के गोरखपुर का मठ किसी आलीशान बंगले से कम नहीं'

गुमशुदा बच्चों की तलाश हुई आसान, इस सॉफ्टवेयर से 4 दिन में तीन हजार बच्चों की हुई पहचान

बीजद पार्टी मुख्यालय में आयोजित सम्मेलन में 15 जिलों के सार्वजनिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया वहीं, बीजेपी की राज्य इकाई ने इन आरोपों को ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ करार दिया है. राज्य में बीजेपी के उपाध्यक्ष समीर मोहंती ने कहा, “मुख्यमंत्री का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है. बीजद इस बात से चिंतित है कि हम लोगों को राज्य सरकार की अक्षमता के बारे में जागरूक कर रहे हैं.” (इनपुट-एजेंसी)