धनबाद: भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को कांग्रेस पार्टी पर आरोप लगाया कि उसने वोट बैंक की राजनीति के चलते तीन तलाक का विरोध किया और महिला सशक्तिकरण में रोड़ा अटकाने का कुप्रयास किया. धनबाद के गोविंदपुर में एक चुनावी सभा में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस ने केन्द्र सरकार की महिला सशक्तीकरण से जुड़ी नीतियों और फैसलों का विरोध कर इस नेक कार्य में लगातार रोड़े अटकाने के प्रयास किए हैं. नड्डा ने कहा कि कांग्रेस ने लगातार मुस्लिम महिलाओं के मुख्य धारा में आने का विरोध किया है.

उन्होंने कहा कि यह बहुत ही आश्चर्यजनक है कि जो तीन तलाक पाकिस्तान, अफगानिस्तान, बांग्लादेश, सीरिया और मिस्र जैसे देशों में भी प्रतिबंधित है उसका कांग्रेस कैसे समर्थन कर सकती है? उन्होंने सवाल उठाया, ‘‘जब देश में बाल विवाह और सती प्रथा के खिलाफ कानून बन सकते हैं तो तीन तलाक पर क्यों नहीं?’’

अमित शाह का ऐलान, कहा- नागरिकता विधेयक इन देशों से प्रताड़ित गैर मुस्लिमों को सम्मान प्रदान करेगा

वहीं, कुछ दिन पहले ही पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा एकदिवसीय दौरे पर तमिलनाडु पहुंचे और कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया. उनकी मौजूदगी में तमिल फिल्मों की मशहूर अभिनेत्री नमिता भाजपा में शामिल हुईं. जेपी नड्डा ने तमिलनाडु के तिरुवल्लूर, धर्मपुरी, कन्याकुमारी, कृष्णगंज, वेल्लूर आदि 16 जिलों के कार्यालयों की आधारशिला रखी. उन्होंने पार्टी की राज्य कोर कमेटी और प्रदेशस्तरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक भी की.

लोकसभा में पास हुआ नागरिकता संशोधन विधेयक 2019, पक्ष में 311 और विपक्ष में पड़े केवल 80 मत

उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के शासन से पहले सिर्फ एक एम्स दिल्ली में था, उन्होंने छह एम्स शुरू कराए. मोदी सरकार में 22 एम्स शुरू हुए हैं, जिसमें से एक मदुरै में भी है, जिसका निर्माण 12 सौ करोड़ रुपये की लागत से हो रहा है.