नई दिल्ली: 18 साल तक कांग्रेस में रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) का एक दिन पहले मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में जिस तरह से बीजेपी (BJP) ने स्वागत किया और फिर जिस अंदाज़ में ज्योतिरादित्य सिंधिया में स्वागत समारोह के बीच भाषण दिया, उसे देख लोगों को ये कहना पड़ा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) वाकई दो दिन में ही भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) के शुद्ध और पुराने नेता की तरह दिखे. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भोपाल ने बीजेपी नेताओं को गले गलाया. मामा शिवराज (Shivraj Singh Chauhan) ने स्वागत किया और मामी (शिवराज की पत्नी) साधना ने हाथों से खाना खिलाया. Also Read - प्रधानमंत्री की दीये जलाने की अपील भाजपा का छुपा एजेंडा: एचडी कुमारस्वामी

ये हैं ‘महारानी’ प्रियदर्शिनी, जिन्हें देखते ही दिल दे बैठे थे ज्योतिरादित्य सिंधिया, दुनिया की 50 खूबसूरत महिलाओं में रही हैं शामिल Also Read - मध्यप्रदेश के गांव में ‘मुसलमान व्यापारियों का प्रवेश निषेध’ की तस्वीर हो रही है वायरल, जानें क्या है इसकी सच्चाई   

सबकी नज़र इस बात पर थी आखिर इतने समय से कांग्रेस की राजनीति और विचारधारा में रमे रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) बीजेपी में कैसे सेट होंगे. लोग उनका भाषण सुनना चाह रहे थे. क्योंकि पीएम नरेंद्र मोदी की वह मुखर आलोचना करते रहे हैं. बीजेपी जॉइन करने के पहले ही दिन दिल्ली में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने देश को पीएम मोदी के हाथ में सुरक्षित बताया और फिर अगले दिन भोपाल में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) की जमकर तारीफ की. ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भोपाल में अपने स्वागत के बीच भारत माता की जय और वन्देमातरम के नारे खूब जोरदार तरीके से लगाए. ज्योतिरादित्य में आया ये बदलाव इतनी जल्दी बाहर आएगा, इसका अंदाज़ा शायद ही किसी ने की होगी. Also Read - मध्यप्रदेश में कोरोना से एक और व्यक्ति ने तोड़ा दम, राज्य में संक्रमितों की संख्या 155 हुई 

400 कमरे, दीवारों पर सोना-चांदी: ऐसा है ‘महाराज’ ज्योतिरादित्य सिंधिया का महल, 4 हज़ार करोड़ है कीमत

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ये भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी में शामिल होना सौभाग्य की बात है. बीजेपी कार्यकर्ता जहां एक बूँद पसीना बहाएंगे, वहाँ वह 100 बूँद पसीना बहाने को तैयार हैं. ज़रूरत पड़ने पर खून बहा देंगे. इसके साथ ही ज्योतिरादित्य सिंधिया के लिए बीजेपी में भी बड़ी जगह बनाना, इतना आसान भी नहीं माना जा रहा है क्योंकि मध्य प्रदेश बीजेपी में पहले से ही कई बड़े नेता मौजूद हैं, जिनकी अपनी जगह है, और वह अपनी जगह नहीं खोना चाहेंगे.

ये हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया की ‘राजकुमारी’ बेटी, 8 साल की उम्र में कर डाला था ये बड़ा काम

ज्योतिरादित्य सिंधिया राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के करीब 31 साल पुराने दोस्त रहे हैं. कॉलेज में दोनों साथ पढ़ा करते थे. भावुक हुए राहुल गांधी कह चुके हैं कि ‘ज्योतिरादित्य को संतुष्टि नहीं मिलेगी. हमारी अच्छी दोस्ती थी.’ ऐसे में आने वाले दिनों में ज्योतिरादित्य सिंधिया एक भाजपा नेता होते हुए राहुल गांधी और कांग्रेस पर कैसे निशाना साधते हैं, ये भी देखने वाली बात होगी.

ज़फर इस्लाम, जिन्होंने ज्योतिरादित्य सिंधिया और बीजेपी के बीच करा डाली इतनी बड़ी डील, पटकथा लिखने को हर जगह रहे मौजूद